कोरोना के कारण टल जाएगा यूपी चुनाव ? आयोग ने प्रेस वार्ता में दी जानकारी

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस के नए Omicron वैरिएंट के बढ़ते मामलों के बीच यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर गुरुवार को निर्वाचन आयोग की बड़ी बैठक हुई। जिसमें चुनाव आयोग ने जानकारी देते हुए बताया है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर सभी सियासी दलों ने वक़्त पर चुनाव कराने की मांग की है। बता दें कि Omicron के कारण यूपी चुनाव को स्थगित करने पर चर्चा हो रही थी।

2022 यूपी विधानसभा चुनाव पर मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा कि, 'सभी सियासी दलों के प्रतिनिधि हमसे मिले और हमें बताया कि चुनाव सभी COVID-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए वक़्त पर कराए जाने चाहिए।' उन्होंने कहा कि, 'हमने सियासी दलों के साथ मीटिंग की थी। राजनीतिक दलों की मांग है कि समय पर चुनाव का आयोजन किया जाए। रैलियों में नफरती भाषण व रैलियों में हो रही भीड़ पर भी कुछ दलों ने चिंता व्यक्त की है।पोलिंग बूथ पर पर्याप्त संख्या में महिला बूथकर्मियों की तैनाती की भी मांग की गई है।'

मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुशील चंद्रा ने प्रेस वार्ता में कहा कि, 'राज्य में अब तक वोटर्स की कुल संख्या 15 करोड़ से भी ज्यादा है। अंतिम प्रकाशन के बाद वोटर्स के वास्तविक आंकड़े सामने आएंगे। अंतिम प्रकाशन के बाद भी यदि किसी का नाम ना आए तो वो क्लेम कर सकते हैं।' उन्होंने कहा कि SSR 2022 के मुताबिक, अबतक 52.8 लाख नए वोटर्स को जोड़ा गया है। इसमें 23.92 लाख पुरूष और 28.86 लाख महिला वोटर्स हैं। 18-19 आयु वर्ग के 19.89 लाख वोटर्स हैं।

मुसलामानों के बाद अब मोदी सरकार का नया टार्गेट ईसाई .., कांग्रेस नेता चिदंबरम का आरोप

NCP नेता एकनाथ खडसे की बेटी की कार पर बदमाशों ने किया अटैक, जांच में जुटी पुलिस

सचिन पायलट ने बनाया 51 मीटर का साफा बाँधने का अनोखा रिकॉर्ड, कभी लिया था साफा न पहनने का प्रण

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -