जलमग्न हुई दिल्ली, सड़कों पर 7-7 फिट गड्ढे..., 2 दिन की बारिश ने खोली प्रशासन की पोल

नई दिल्ली:  बारिश वैसी तो आम लोगों के लिए राहत लेकर आती है, किन्तु दिल्ली वालों के लिए बारिश हर बार मुसीबत ही लेकर आती है. अधिक बारिश हो तो जलभराव की समस्या और गड्ढों की दिक्कतें दिल्ली में अब आम नज़र आती है. 2 दिन दिल्ली में जमकर पानी क्या बरसा, प्रशासन और सरकार के तमाम दावों की पोल खुल गई. इसका सीधा उदाहरण राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली वो सड़कें हैं, जिनकी हालत पहले से ही बदतर थी, किन्तु बारिश के बाद जैसे ये तालाब ही बन गई हो. 

तीस हजारी कोर्ट से आज़ाद मार्केट और फिल्मिस्तान की तरफ जाने वाली मुख्य सड़क पर बने बड़े-बड़े गड्ढे इसी बदहाली की तरफ इशारा कर रहे हैं. सड़क के अधिकतर हिस्से में दो-दो फीट के गड्ढे हो गए हैं और कुछ स्थानों पर दरारें भी आ गई हैं. ऐसे में इस रास्ते से गाड़ियों का गुजरना किसी चुनौती से कम नहीं. वहीं पैदल चलने वाले लोगों के लिए भी यह रास्ता मुश्किलों से भरा है. क्योकि अभी तक सड़कों के किनारे पानी जमा हुआ है, जिस कारण स्थानीय लोगों को बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. 

ऐसा ही कुछ हाल आश्रम चौक का भी है. सरिता विहार से आश्रम की ओर आने वाली रोड पर अभी भी पानी भरा हुआ है और सड़कों पर 7-7 फीट चौड़े गड्ढे हो गए, जिसकी वजह से सुबह और शाम के समय, लोगों को लगभग एक से डेढ़ घंटा जाम से जूझना पड़ा. इसके साथ ही पूर्वी दिल्ली के प्रीत विहार से लेकर लक्ष्मी नगर की तरफ जाने वाली सड़क पर बने फुटपाथ की भी बारिश ने हालत खस्ता कर दी. यहां पर बना फुटपाथ अब खुले नालों में बदल गया है. बारिश का पानी नालों से ओवरफ्लो होकर सड़कों पर है . ना सड़क नज़र आ रही है और ना ही फुटपाथ.

भारत आज नई दिल्ली में अंतर्राष्ट्रीय जलवायु शिखर सम्मेलन 2021 का करेगा मेजबानी

शिक्षा निदेशक ने कहा- "किसी भी राष्ट्रीयता के 6 से 14 वर्ष की आयु के बच्चे..."

यज्ञ में गाय का घी डालने से होती है वर्षा: इलाहाबाद HC

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -