1984 सिख दंगा : पीड़ितों और CBI की याचिका पर दिल्ली HC ने दिया यह आदेश

Aug 14 2018 03:34 PM
1984 सिख दंगा : पीड़ितों और CBI की याचिका पर दिल्ली HC ने दिया यह आदेश

नई दिल्ली : 1984 का सिख दंगा आज भी रूह में एक कंपन छोड़ जाता है. 1984 के इस बड़े दंगे में करीब 3000 लोग मौत का शिकार हो गए थे, वहीं कई लोग इस दौरान घायल भी हुए थे. 1984 का यह सिख दंगा आज भी अदालत में चक्कर काट रहा है. CBI और पीड़ितों ने दिल्ली उच्च न्यायालय में सिख दंगों के मुख्य आरोपी सज्जन कुमार के ख़िलाफ़ एक याचिका दायर की थी, जिस पर दिल्ली उच्च न्यायालय ने कहा है कि इस मामले में 11 सितम्बर से लगातार सुनवाई की जाएगी. 

बता दे कि साल 1984 में इंदिरा गांधी की सरकार में भीषण दंगा हुआ था. बताया जाता है कि यह दंगा भारतीय सिखों के ख़िलाफ़ था, तत्कालीन पीएम इंदिरा गांधी की उन्ही के अंगरक्षकों ने हत्या कर दी थी. बता दे कि उनके अंगरक्षक सिख ही थे, जिसके चलते 1984 सिख दंगे ने काफी तूल पकड़ा. सज्जन कुमार जो कि एक कांग्रेसी है उनका नाम भी इस मामले में शामिल है. 

इंदिरा गांधी की मौत के बाद दंगों में करीब 3000 लोगों की मौत हो गई थी. ख़बरों की माने तो 1970 के दशक में इंदिरा द्वारा लगाए गए भारतीय आपातकाल के दौरान स्वायत्त सरकार के लिए चुनाव प्रचार के लिए हज़ारों सिखों को बंदी कर लिया गया था. 

खबरें और भी...

इस मशहूर सिंगर का हमशक्ल बन चोर ने उड़ाए करोड़ों रूपए

अलविदा चटर्जी : पीएम, राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, राहुल ने ऐसे किया याद

भारत में आतंकी हमलों की तैयारी कर रहा अल कायदा : यूएन रिपोर्ट