दिल्ली में खतरे के निशान से ऊपर पहुंची यमुना नदी, सीएम केजरीवाल ने बुलाई आपात बैठक

Aug 19 2019 02:44 PM
दिल्ली में खतरे के निशान से ऊपर पहुंची यमुना नदी, सीएम केजरीवाल ने बुलाई आपात बैठक

नई दिल्ली: हथनी कुंड बैराज से 8.50 लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने के बाद सोमवार सुबह यमुना नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है. इसको देखते हुए दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने यमुना के जलभराव क्षेत्र को खाली करने के आदेश दे दिए हैं. बताया जा रहा है कि यह पहली बार है जब हथनीकुंड बैराज से इतनी बड़ी मात्रा में एक साथ पानी छोड़ा गया हो.

इस मामले पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने आपात बैठक बुलाई है. इस बैठक में आने वाली स्थिति से निपटने के लिए महत्वपूर्ण फैसले लिए जाएंगे. यमुना के बढ़ते जलस्तर के मद्देनज़र प्रशासन को हाईअलर्ट पर रखा गया है. वहीं दिल्ली पुलिस और नागरिक रक्षा स्वयंसेवकों की सहायता से सोमवार सुबह नौ बजे तक निचले इलाके में रहने वाले लोगों को बाहर निकालने का निर्देश जारी किए गए हैं. वहीं दिल्ली सरकार ने शहर में बाढ़ को लेकर चेतावनी भी जारी की है.

आपको बता दें कि सोमवार सुबह यमुना नदी का जलस्तर 205.33 मीटर दर्ज किया गया था. जबकि खतरे का निशान 204.50 मीटर पर है. हथनी कुंड बैराज से 8 लाख क्यूसैक पानी छोड़े जाने के बाद यह जलस्तर निरंतर बढ़ रहा है और अभी यह और बढ़ सकता है, जिसके चलते निचले इलाकों में जलभराव की समस्या हो सकती है.

सप्ताह के पहले दिन बाज़ार में दिखी मजबूती, हरे निशान के साथ खुला सेंसेक्स

Recipe : नेशनल पोटैटो डे पर जानें घर पर किस तरह बनाएं पोटैटो फ्रेंच फ्राइज

National Potato Day : खाने के अलावा बालों के लिए भी फायदेमंद है आलू, जानें लाभ