Corona Live: चार दिन बाद ब्रिटेन के अस्पतालों में नहीं बचेगी जगह, इटली में और बदतर होंगे हालात

लंदन: ब्रिटेन का लंदन और स्पेन का मैड्रिड विश्व भर में फैल चुके कोरोना वायरस के नए केंद्र बनने जा रहे हैं। यहां हर दो दिन में मौतें दो गुना तक बढ़ रही हैं। अब तक यूरोप में इटली और लॉम्बार्डी इस महामारी का केंद्र बना हुआ था। हालत यह है कि लंदन में चार दिन बाद हॉस्पिटल्स में मरीजों को रखने के लिए जगह नहीं बचेगी।

पूरी दुनिया में तक़रीबन 4.15 लाख लोग इस घातक वायरस की चपेट में हैं। इटली प्रशासन का कहना है कि पाबंदियों को सख्त किए जाने के बाद हर दिन संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या घटकर आठ फीसद पर पहुंच गई है। यह संख्या 21 फरवरी के बाद से सबसे कम है। इस बीमारी की वजह से देश में सबसे अधिक 6,820 लोगों की मौत हुई है। अमेरिका के न्यूयॉर्क में अबतक 20 हजार से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं। वहीं 160 लोगों की मौत हो चुकी है।

इटली में 31 जुलाई तक लॉकडाउन है। बीते एक सप्ताह में एक लाख से अधिक लोगों ने लॉकडाउन के नियम को तोड़ा है। जिसकी वजह से सख्ती को बढ़ाते हुए जुर्माने की रकम को 25 गुना बढ़ा दिया गया है। अब नियम तोड़ने वालों को 17 हजार नहीं बल्कि ढाई लाख रुपये का जुर्माना देना होगा। लोगों को रोकने के लिए सड़कों पर आर्मी लगाई हुई है। जिसका असर दिखाई दे रहा है।

भारत : इस लिस्ट में देखें प्रतिदिन कितना विकराल हो रहा कोरोना वायरस

कोरोना के चलते खेल की कई गतिविधियां रद्द कर दी गई 

लॉकडाउन : नियम तोड़ रहा था कांग्रेस विधायक, पुलिस में हुआ मामला दर्ज

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -