कश्मीर में गुलाम नबी के 'शक्ति प्रदर्शन' पर भड़की कांग्रेस, आज़ाद को इस कमिटी से किया बाहर

श्रीनगर: केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में कांग्रेस की दिक्कतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. जहां एक तरफ कांग्रेस के तमाम नेताओं ने प्रदेश नेतृत्व पर इल्जाम लगाते हुए अपने अपने पदों से इस्तीफा दे दिया. तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व सीएम गुलाम नबी आजाद ने कठुआ में बड़ी रैली की. इसे शक्ति प्रदर्शन के रूप में देखा जा रहा है. इस दौरान गुलाम नबी आजाद ने कहा कि, वे वहीं करेंगे, जो प्रदेश की आवाम राज्य की बेहतरी के लिए उनसे कराना चाहती हैं. 

वहीं, कांग्रेस ने आजाद के इस शक्ति प्रदर्शन के बाद उन्हें डिसिप्लिनरी ऐक्शन कमेटी से बाहर का कर दिया है. गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर में हाल ही में चार पूर्व मंत्रियों और तीन पूर्व विधायकों ने कांग्रेस में अपने अपने पदों से सामूहिक रूप से इस्तीफा दे दिया था. बताया जा रहा है कि ये सभी नेता आजाद के ख़ास हैं. इन नेताओं ने कांग्रेस हाईकमान पर अनसुनी करने का भी इल्जाम लगाया है. हालांकि, आजाद ने इस मुद्दे की जानकारी होने से साफ़ मना कर दिया.  

रैली के बाद जब आजाद से सवाल किया गया कि क्या वे कांग्रेस की तरफ से सीएम फेस होंगे, तो उन्होंने जवाब दिया, मैं वही करूंगा, जो जम्मू कश्मीर की आवाम राज्य की बेहतरी के लिए मुझसे कराना चाहती हैं. वहीं, इस्तीफा देने वाले जो नेता गुलाम नबी की रैली में शामिल हुए, उन्होंने कहा कि, उन्हें जम्मू कश्मीर में कांग्रेस की तरफ से मुख्यमंत्री उम्मीदवार के रूप में केवल गुलाम नबी आजाद पसंद हैं, न कि कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर. 

इंदिरा गांधी खुद भी थी वीर सावरकर की मुरीद, आज कांग्रेस कहती है 'माफीवीर'

सिद्धू के नक्शेकदम पर गुलाम नबी आज़ाद, कांग्रेस हाई कमान को दिया अल्टीमेटम

क्या रेलवे स्टेशन के बाद अब बदल जाएगा हबीबगंज पुलिस स्टेशन का नाम ?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -