सरकार जनता को राहत देने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी: CM शिवराज

भोपाल: मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हाल ही में वर्चुअल कैबिनेट बैठक की। इस बैठक के जरिये उन्होंने पूर्व मंत्रालय में बैठक को संबोधित किया है। आप सभी को बता दें कि कैबिनेट की बैठक से पहले एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज ने अपने पूर्व संबोधन में कहा, ''सरकार जनता को राहत देने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी, परिश्रम की पराकाष्ठा करेंगे, प्रयत्नों की परिसीमा करेंगे। जनता को इस प्राकृतिक आपदा से निकालकर ले जाएंगे। ये हमारा वज्र और दृढ़ संकल्प है।''

इसी के साथ उन्होंने यह भी कहा, ''बाढ़ से उत्पन्न इस परिस्थिति में हमारी पहली प्राथमिकता जनता के जीवन की रक्षा थी, हम उसमें सफल हुए, लेकिन चुनौती अभी भी बड़ी है। संकट है, लेकिन हमारे नागरिक चिंता न करें। राहत एवं बचाव कार्य में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। चुनौती बड़ी है लेकिन उससे बड़ा हमारा हौंसला है, जैसे-जैसे परिस्थितियां सामान्य होंगी, सर्वे का कार्य शुरू किया जाएगा। कई जगह घरों और फसलों का नुकसान है। अनाज के वितरण की व्यवस्था के तहत प्रभावित हर परिवार को 50 किलो राशन देने की व्यवस्था करेंगे।''

इसके अलावा उन्होंने कहा, ''जिनके मकानों को क्षति पहुंची है, उन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मिलने वाली राशि के बराबर राशि उपलब्ध कराएंगे। ताकि मकानों को फिर से खड़ा किया जा सके, बाकी क्षति का भी आंकलन किया जायेगा।'' आप सभी को हम यह भी बता दें कि मध्य प्रदेश के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में निरंतर राहत एवं बचाय का कार्य जारी है। अब तक बाढ़ में फंसे नागरिकों को सकुशल निकाल कर सुरक्षित स्थान पर पहुँचाया गया है और खाद्य सामग्री का वितरण किया गया है। वहीँ दूसरी तरफ CM का कहना है कि हर नागरिक की सुरक्षा प्रदेश सरकार की प्राथमिकता है।

ग्लैमरस हुईं शहनाज गिल, नयी तस्वीरों ने बढ़ाया इंटरनेट का तापमान

प्रधानमंत्री से चर्चा करते हुए झलके महिला हॉकी टीम के आंसू, पीएम मोदी ने कहा- आप निराश मत होइए...

जब मेजर ध्यानचंद ने ठुकरा दिया था 'हिटलर' का ऑफर, मिली थी 'हॉकी के जादूगर' की उपाधि

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -