नौसेना दिवस: देश के इस राजा को माना जाता है भारतीय नौसेना का जनक

नई दिल्ली: भारतीय नौसेना देश की सैन्य शक्ति का बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है. यह देश की समुद्री सरहदों की रक्षा में अहम भूमिका निभाती रही है. भारत के अंतरराष्ट्रीय संबंधों को मजबूत करने में भी भारतीय नौसेना का बहुत बड़ा योगदान है. 4 दिसंबर 1971 के दिन ही भारतीय नौसेना (Indian Navy Day 2021) के वीर सैनिकों ने पाकिस्तान की PNS खैबर के साथ कई बड़े लड़ाकू वॉर शिप्स को समुद्र में ही ढेर कर दिया था. जिसके चलते 1971 के युद्ध में पाकिस्तान की हार का रास्ता साफ हुआ था. 

इसी दिन को अमर बनाने के लिए पूरा देश 4 दिसंबर के दिन भारतीय नौसेना दिवस मनाता है.  दुनिया में चौथी सबसे मजबूत भारतीय नौसेना (Indian Navy Day 2021) की शक्ति अब दिनों दिन बढ़ती जा रही है.। नौसेना के बेड़े में मौजूद कुल जहाजों की संख्या 280 से अधिक है. 1612 में भारतीय नौसेना की स्थापना हुई थी. देश की स्वतंत्रता के बाद 1950 में इसका फिर से गठन हुआ और इसे इंडियन नेवी का नाम दिया गया था.

बता दें कि भारतीय नौसेना देश की सशस्त्र सेना की समुद्री शाखा है और इसका नेतृत्व नौसेना के कमांडर-इन-चीफ के तौर पर देश के राष्ट्रपति द्वारा किया जाता है. आपको शायद ये जानकर हैरानी हो कि 17वीं शताब्दी के मराठा सम्राट छत्रपति शिवाजी भोंसले को भारतीय नौसेना का जनक कहा जाता है. क्योंकि उन्होंने ही मुगलों से लड़ने के लिए सबसे पहले अपनी नौसेना तैयार की थी.   

भारत के आगे चीन ने मानी हार, जानिए क्या है पूरी कहानी

देश के राजनेताओं ने जताया नौसेना के अधिकारियों पर गर्व

सावधान! सूर्य ग्रहण के दिन गर्भवती महिलाएं भूलकर भी न करें ये काम

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -