पंजाब में मॉब लिंचिंग पर कैप्टन अमरिंदर ने तोड़ी चुप्पी, कही ये बात

अमृतसर: पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मंगलवार को कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा और पंजाब का हित उनके एजेंडे में सबसे ऊपर है और ऐसी उम्मीद है कि अगली (पंजाब लोक कांग्रेस) PLC-BJP सरकार इसपर सफलतापूर्वक कार्य करेगी. राजपुरा में कांग्रेस नेता जगदीश कुमार जग्गा को पार्टी में शामिल करने के बाद जनसभा को संबोधित करते हुए कैप्टन ने कहा कि, चुनाव में सफलता मिले, इसके लिए दोनों पार्टी निकट समन्वय के साथ कार्य कर रही हैं.

अमरिंदर सिंह ने दरबार साहिब और कपूरथला में बेअदबी के आरोपियों की हत्या की निंदा करते हुए कहा कि उन्हें पुलिस के सुपुर्द कर देना चाहिए था. पूर्व सीएम ने कहा कि, ‘कोई भी सभ्य समाज इस प्रकार की हत्याओं को स्वीकार नहीं कर सकता और ना ही ऐसा किया जाना चाहिए. बेअदबी करना गलत है, किन्तु इंसान की हत्या करना भी गलत है. यह कैसा रास्ता है? इस देश में एक कानून है. आप आरोपी को SGPC दफ्तर ले जाते हैं, उससे पूछताछ करते हैं और फिर उसे मार डालते हैं. यह कौन सा तरीका है? यह गलत है और यह बिल्कुल भी स्वीकार नहीं किया जा सकता.’ 

शिरोमणि अकाली दल (SAD) नेता बिक्रम सिंह मजीठिया के खिलाफ FIR दर्ज करने के सवाल के जवाब में कैप्टन ने पूछा कि सरकार ने किस आधार पर उनके खिलाफ केस दर्ज किया. क्योंकि नशीले पदार्थों की तस्करी की रिपोर्ट अभी भी पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट के पास सीलबंद लिफाफे में पड़ी है.

पंजाब में फिर हुई 'बेअदबी', लेकिन किसी को चांटा तक नहीं पड़ा.. हाल ही में हुई है 2 मॉब लिंचिंग

क्या 'अवैध धर्मान्तरण' की इजाजत देता है संविधान ?

क्यों निलंबित किए जाते हैं सांसद ? अब TMC के डेरेक ओब्रायन भी हुए सस्पेंड

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -