इस बॉलीवुड फिल्ममेकर ने साधा पीएम मोदी पर निशाना, कहा- 'औकात है नहीं'

कोरोना संकट के कारण इस समय सभी अपने घरों में क़ैद हैं. ऐसे में बीते दिनो मोदी सरकार ने भले ही 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज का ऐलान कर दिया हो, लेकिन प्रवासी मजदूरों और किसानों का दर्द कम नहीं हुआ है. हाल ही में इसे लेकर जहां विपक्ष सवाल उठा रहा है, वहीं बॉलीवुड हस्तियां भी अप्रत्यक्ष रूप से सरकार पर तंज कसने का कोई मौक़ा अपने हाथ से नही जाने दे रही हैं. अक्सर ही बॉलीवुड फिल्ममेकर अनुराग कश्यप केंद्र की मोदी सरकार की नीतियों पर सवाल उठाते रहे हैं, लेकिन अब फिल्मकार अनुभव सिन्हा ने भी उनका साथ देना शुरू कर दिया है. 

जी हाँ, सामाजिक मुद्दों पर मुल्क, आर्टिकल 15 और थप्पड़ जैसी फिल्में बनाने वाले अनुभव सिन्हा ने हाल ही में सवाल किया है कि “कुछ दिन पहले ही 140 करोड़ लोगों के बाद-दादा के जन्मप्रमाण पत्र मांगे जा रहे थे, लेकिन प्रवासी मजदूरों को उनके घरों तक पहुंचाने में नाकाम हो रहे हैं.” वैसे इससे यह तो साफ है कि उन्होंने सत्ता में बैठे लोगों पर करारा तंज कसा है. वैसे अनुभव सिन्हा ने अपने ट्वीट में लिखा हैं, “अभी कुछ ही समय पुरानी बात है देश के 140 करोड़ लोगों के बाप दादा का birth certificate ढूँढ रहे थे हम लोग और मज़दूरों को घर पहुँचाने की औक़ात है नहीं। #बड़ेआए.” वैसे अनुभव के इस ट्वीट के बाद से उन्हें ट्रोल किया जा रहा है.

वहीं अपने दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा है, “अपने देश वालों को खाना खिला दो पहले. पाकिस्तान बांगला देश और अफ़ग़ानिस्तान वालों को बाद में ले आना.” आप सभी को बता दें कि केंद्र की मोदी सरकार ने कोरोना संकट से पहले सीएए, एनआरसी और एनपीआर मुद्दे पर जबर्दस्त मुहिम चलाई थी. वहीं  इसके खिलाफ देश में सीएए, एनआरसी और एनपीआर के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन भी हुए. जी हाँ और तो और  दिल्ली में शाहीन बाग का विरोध-प्रदर्शन देश-दुनिया में सुर्खियों में आ गया, लेकिन जैसे ही कोरोना महामारी ने दस्तक दी, सब ठप्प हो गया.

सदमे में हैं शाहरुख़ खान, दुनिया को अलविदा कह गया यह ख़ास शख्स

'गुलाबो-सिताबो' की ऑनलाइन रिलीज पर भड़का आईनॉक्स, निर्देशक ने दिया जवाब

टिकटॉक पर शिल्पा के हुए 1.73 करोड़ फॉलोवर्स

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -