तलाक केस में बॉबी डार्लिंग के पति ने माँगा कोर्ट से 9 अप्रैल तक का समय

आप सभी को याद हो कुछ समय पहले ही सेक्स चेंज कराने के बाद महिला बनने वाली फिल्म और टेलिविजन कलाकार बॉबी डार्लिंग उर्फ पाखी शर्मा के तलाक केस दायर किया और उसकी सुनवाई बांद्रा फैमिली कोर्ट ने बीते मंगलवार को 9 अप्रैल तक के लिए टाल दी है. जी हाँ, मिली जानकारी के अनुसार बॉबी के पति ने स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए कोर्ट से और समय मांगा था, जिसके बाद अदालत ने मामले की सुनवाई टाल दी है. वहीं उस दौरान बॉबी के पति ने शादी पर ही कानूनी सवाल उठाया था, जिसके खिलाफ बॉबी की ओर से उनके वकील ने कोर्ट में अपना जवाब दायर किया है. इस मामले में कोर्ट में बॉबी की वकील भावना जाधव ने जवाब में ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी के अनुसार ‘महिला’ की परिभाषा को खारिज कर दिया और ट्रांसजेंडर्स के मामले में सुप्रीम कोर्ट के एक फैसले का हवाला देते हुए कहा कि ''एक महिला के रूप में उसकी स्थिति को फिर से परिभाषित करने के लिए सेक्स चेंज सर्जरी की गई.''

वहीं उस जवाब में तर्क दिया गया है कि 'हिंदू विवाह अधिनियम (HMA), जिसके तहत 2016 में विवाह को रद्द कर दिया गया था, में यह साफ तौर पर लिखा नहीं गया कि एक महिला केवल तभी महिला नहीं होती, जब वह एक महिला के रूप में पैदा हुई हो.'' आप सभी को बता दें कि इस मामले में जाधव ने बॉबी के पति की गैरमौजूदगी पर सवाल उठाते हुए वकील जेजी रामचंदानी द्वारा और समय दिए जाने की मांग वाली याचिका का विरोध भी किया और बॉबी के पति ने पीठ में दर्द होने की बात कह कर आराम करने के लिए डॉक्टर की एक रिपोर्ट कोर्ट के सामने प्रस्तुत किया है.

वहीं बताया गया है कि इस मामले के लंबा चलने की संभावना जताई दिखाई दे रही है. आपको पहले तो यह सब बता दें कि सेक्स चेंज कराकर महिला बनीं बॉबी डार्लिंग ने घरेलू हिंसा का हवाला देते हुए अपने पति पर तलाक की मांग की अर्जी दायर की है.

भीगे बदन के साथ इंस्टग्राम पर आग लगा रहीं हैं सृष्टि रोड़े

लगातार हॉटनेस की हदों को पार रही है टीवी की सीधी-सादी गोपी बहु

गुलाबी लहंगे में खूबसूरती की नयी परिभाषा लिखती दिखीं दृष्टि धामी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -