'नोट के बदले वोट' को गलत नहीं मानते 80% लोग

पटना : अब तक तो चुनावों में नोट देकर वोट हासिल करने की बात पर जमकर बवाल मचता रहा है, लेकिन अब 80 प्रतिशत जतना नोट के बदले वोट को गलत नहीं मानती है। मतदाता पैसों के लिए दूसरी चीजों के बदले किसी को वोट देने की बात को गलत नहीं मानते हैं। मिली जानकारी के अनुसार चंद्रगुप्त इंस्टीट्युट आॅफ मैनेजमेंट, पटना की सहायता से जून - जुलाई में एक सर्वे करवाया गया। वोटिंग को लेकर मतदाताओं के व्यवहार की जानकारी दी गई। अब बिहार राज्य में कार्य करना चुनाव आयोग के लिए कुछ टेढ़ी खीर होगा। इस दौरान यह भी कहा गया कि बिहार के लोगों की इस तरह की सोच सामने आने के बाद चुनाव आयोग के लिए मुश्किलें बढ़ने लगी हैं।

चुनाव आयोग द्वारा मतदाताओं को जागरूक करने का अभियान चलाया जा रहा है। हालांकि अब चुनाव आयोग जनजागरूकता अभियान चलाने लगा है तो दूसरी ओर चुनाव आयोग द्वारा महज मतदान के लिए इसे प्रेरित किया जा रहा है। मतदाताओं को कुछ सीख भी दी जा रही है। 

बिहार के अलावा मुख्य निर्वाचन अधिकारी आर लक्षमणनन द्वारा कहा गया है कि यह एक चुनौतीपूर्ण कार्य है। मतदान कार्य को लेकर जुटे अधिकारियों और कर्मचारियों का पूरा ध्यान वोटिंग पर है। दूसरी ओर सरकारी स्तर पर भी मतदाता जागरूकता अभियान चलाए जा रहे हैं। जिससे लोगों को अधिक से अधिक वोटिंग के लिए प्रेरित किया जा सके। मतदाताओं में भी वोटिंग को लेकर उत्साह बना हुआ है। सबसे अधिक उत्साह तो नए मतदाताओं में बना हुआ है। 

सीईओ के अंतर्गत मतदाताओं के व्यवहार और वोटिंग की पद्धति जानने के लिए भी सर्वे कार्य करवाया जा रहा है। यही नहीं कई तरह के नतीजे भी सामने आए हैं। सर्वे के दौरान 4500 मतदाताओं को सैंपल दिया गया। मतदान प्रतिशत में सीटों को मतदान प्रतिशत को वोटर्स का सैंपल दिया गया है। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -