बिहार के NRI डॉ का दावा, कहा- कुपोषण है चमकी बुखार का मुख्य कारण

बिहार के NRI डॉ का दावा, कहा- कुपोषण है चमकी बुखार का मुख्य कारण

पटना: बिहार में इन्सेफलाइटिस यानि चमकी बुखार से हुई 100 से ज्यादा बच्चों की मौत ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है. सरकार का दावा है कि वैज्ञानिक भी बीमारी का समाधान नहीं ढूंढू पर रहे हैं. किन्तु बिहार के ही एक एनआरआई डाक्टर का दावा है कि चमकी बुखार की बीमारी को दूर किया जा सकता है.

लंदन सैंट जार्जिया हास्पीटल के कार्डियोलॉजिस्ट डॉ राजय नारायण का दावा है कि बिहार में माहमारी का रूप ले रही इस बीमारी पर काबू पाया जा सकता है. प्रेस वालों से बातचीत में डाक्टर राजय ने बताया कि बीमारी की मुख्य वजह कुपोषण है. सरकार अगर गांवों में कुपोषण जैसी समस्या पर नियंत्रण कर लेती है तो बीमारी पर भी काबू  पाया जा सकता है. उन्होंने कहा क़ी प्रदेश में कुपोषण को दूर करने के लिए कई योजनाएं चल रही हैं किन्तु जनीनी स्तर पर कमियां रहने के कारण ही ऐसे हालात आ रहे हैं.

डाक्टर राजय ने बताया कि बिहार सरकार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी के साथ बिहार की स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाये जाने को लेकर उनकी बैठक भी हुई है. सरकार भी ये कोशिश कर रही है कि जल्द से जल्द बिहार के लोगों को सही चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराइ जाए. वहीं, दूसरी ओर डाक्टर राजय ने बाताया कि पूरी दुनिया में कुछ ऐसी बीमारियां हैं जिनसे सबसे अधिक लोगों की मौत हो रही है. जिनमें हार्ट अटैक, स्ट्रोक, सुगर से लोग सबसे अधिक प्रभावित हैं और आने वाले दिनों में इन्हीं बीमारियों से सबसे अधिक मौतें होंगी.

इतने हवाई अड्डों का निजीकरण करेगी सरकार

मई महीने में इतने रोजगार पैदा हुए

जीएसटी कौंसिल ने इलैक्ट्रिक वाहनों के मामले में लिया निर्णय, कर में हुई इतनी कटौती