सीएम भूपेश बघेल का बड़ा ऐलान, राज्य अलंकरण श्रेणी में दिए जाएंगे तीन नए पुरस्कार

रायपुर: छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने राज्य में लोक कला साधकों के सम्मान को लेकर बड़ा ऐलान किया है. छत्तीसगढ़ में राज्य स्थापना पर प्रदान किए जाने वाले राज्य अलंकरण श्रेणी में तीन नए पुरस्कार शामिल किए गए हैं. यह सम्मान लोक कलाकार स्व. लक्ष्मण मस्तुरिया और स्व. खुमान साव तथा भगवान राम की माता कौशल्या को समर्पित होंगे. सीएम भूपेश बघेल ने कहा है कि छत्तीसगढ़ अपनी प्राचीन और समृद्ध सांस्कृतिक विरासत और जीवंत संस्कृति के लिए मशहूर है. यहाँ के लयबद्ध संगीत, लोकगीत और लोक नाट्य अद्भुत आनंद की अनुभूति कराते हैं.

उन्होंने कहा कि लोक संस्कृति के जिन साधकों ने इसे जीवंत बनाए रखने में अपना जीवन समर्पित कर दिया है. उन्हें सम्मानित करना राज्य सरकार का परम कर्तव्य है. ऐसे में राज्य की लोकगीत और लोक संगीत की महान विरासत के संरक्षण एवं संवर्धन और इस क्षेत्र में कार्य कर रहे नए कलाकारों को प्रेरित करने के लिए राज्य सरकार द्वारा राज्य अलंकरण के तौर पर अन्य पुरस्कारों के साथ तीन नए पुरस्कार भी दिए जाएंगे.

इसमें लोकगीत के क्षेत्र में लक्ष्मण मस्तुरिया पुरस्कार प्रदान किया जाएगा. वहीं लोक संगीत के क्षेत्र में योगदान देने वाले कला साधकों को खुमान साव पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा. इसी प्रकार माता कौशल्या के मायके और भगवान राम के ननिहाल छत्तीसगढ़ में श्रेष्ठ रामायण (मानस) मंडली को माता कौशल्या सम्मान से नवाज़ा जाएगा. राज्य अलंकरण की तरह ही इन श्रेणियों के पुरस्कार भी राज्य स्थापना दिवस के मौके पर आयोजित होने वाले राज्योत्सव कार्यक्रम के दौरान दिए जाएंगे.

दिल्ली में अगले 5 दिनों तक होगी बारिश, वायु प्रदूषण से मिलेगी राहत

अरुणाचल प्रदेश में सेना का चीता हेलीकाप्टर क्रैश, पायलट की मौत

अब 'तलाक-ए-किनाया' और 'तलाक-ए-बाइन' पर सुनवाई करेगा SC ! कई इस्लामी देशों में है बैन

 

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -