भारत के सभी राज्यों में मनाया जा रहा है आतंकवाद विरोधी दिवस

बीते कुछ वर्षों में सरकार, पुलिस और सुरक्षाबल की सहायता से आतंकवादी गतिविधियों (Terrorist Activities) में कमी भी देखने के लिए मिला है. गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने सभी केंद्रीय मंत्रालयों और राज्यों को पत्र जारी कर आतंकवाद विरोधी दिवस के मनाए जाने की सूचना भी जारी कर दी है.

21 मई को सेलिब्रेट किया जाता है आतंकवाद विरोधी दिवस: इंडिया में हर वर्ष 21 मई को आतंकवाद विरोधी दिवस सेलिब्रेट किया जाता है. सभी सरकारी कार्यालयों (Government Offices) में आतंकवाद विरोधी शपथ लेने के लिए बोला गया था . आपको बता दें कि आतंकवाद (Terrorism) के विरुद्ध भारत सरकार ने बहुत से कदम उठाए हैं. 

आतंकवाद विरोधी शपथ ली जाएगी: 21 मई को केंद्रीय मंत्रालयों की छुट्टी के चलते 20 मई को आतंकवाद विरोधी शपथ (Anti-Terrorism Pledge) लेने को बोला जा चुका है. बीते वर्ष इंडिया में निरंतर बढ़ते कोविड (Corona) के मामलों के चलते शपथ के दौरान कोरोना वायरस नियमों (Covid-19 Rules) का पालन करने पर जोर दिया गया था.

युवाओं को करना है जागरूक: गृह मंत्रालय (Ministry Of Home Affairs) के मुताबिक इस दिन को मनाने के पीछे का उद्देश्य युवाओं को आतंकवाद और हिंसा के पथ से दूर कर देना था. अगर युवाओं (Youth) को इस रास्ते से दूर रखने में कामयाबी मिली तो आतंकवाद (Terrorism) की जड़ें खुद-ब-खुद देश से समाप्त होगी.

अमृतसर के गुरु नानक अस्पताल में लगी भयंकर आग, मची अफरा-तफरी

राजस्थान में गर्मी की मार, 13 जिलों में 47 डिग्री पहुंचा तापमान

अगर रूस-यूक्रेन युद्ध नहीं होता तो हमारी अर्थव्यवस्था 4.3 ट्रिलियन डॉलर की होती: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -