BHU की दीवारों किसने लिखे 'कश्मीर तो झांकी है, पूरा भारत बाकी है' और 'ब्राह्मणों की कब्र खुदेगी' जैसे नारे ?

BHU की दीवारों किसने लिखे 'कश्मीर तो झांकी है, पूरा भारत बाकी है' और 'ब्राह्मणों की कब्र खुदेगी' जैसे नारे ?
Share:

वाराणसी: बनारस हिन्दू विश्विद्यालय (BHU) के महिला महाविद्यालय में बुधवार (27 अप्रैल, 2022) को रोजा इफ्तार पार्टी को लेकर विरोध शुरू हो गया है। कल शाम को जैसे ही इफ्तार की तस्वीरें सामने आईं, तो स्टूडेंट्स ने कुलपति प्रो सुधीर जैन के खिलाफ नारे लगाए और प्रतीकात्मक पुतला लेकर जुलूस निकालते हुए कुलपति आवास पर पहुँचकर पुतला दहन किया।

हालाँकि, यह पहली दफा नहीं है, BHU में प्रभार लेने के बाद से ही सुर्ख़ियों में चल रहे कुलपति प्रोफेसर सुधीर कुमार जैन ने अपने आधिकारिक सोशल मीडिया अकाउंट से इफ्तार की सूचना देकर ही बड़े विवाद को हवा दे दी थी। शाम में रोजा इफ्तार पार्टी का आयोजन किया गया। इसमें कुलपति, रेक्टर प्रो. वीके शुक्ला समेत महिला महाविद्यालय के रोजेदार शिक्षक, शिक्षिकाओं व छात्राओं ने अपना रोजा खोला। स्टूडेंट्स ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि वहाँ डा. मो. अफजल हुसैन की अगुवाई में रोजा और रमजान पर एक चर्चा भी हुई। इसकी जानकारी होने पर स्टूडेंट्स का बड़ा समूह आक्रोशित हो गया।

बता दें कि रोजा इफ्तार के बाद जहाँ कुलपति ने छात्राओं के साथ सेल्फी ली। वहीं, VC और रेक्टर के अलावा डॉ. अफजल हुसैन, प्रो. नीलम अत्रि, कार्यवाहक प्रधानाचार्य प्रो. रीता सिंह, छात्र अधिष्ठाता प्रो. केके सिंह, चीफ प्रॉक्टर प्रो. बीसी कापड़ी, डॉ. दिव्या कुशवाहा भी कार्यक्रम में उपस्थित रहे। इफ्तार से आक्रोशित छात्रों ने मीडिया को बताया कि, 'BHU में काफी समय से रोजा इफ्तार जैसा कोई आयोजन नहीं किया जा रहा था। अचानक कुलपति का BHU को जामिया बनाना सही नहीं है।' छात्रों ने इस तरह की पहल को मुस्लिम तुष्टिकरण करार दिया है।

वहीं स्टूडेंट्स ने यह भी बताया कि कल इफ्तार पार्टी के बाद परिसर में जगह-जगह दीवारों पर हिन्दू विरोधी ग्राफिटी बनाई गई है। BHU के स्टूडेंट्स ने कुछ तस्वीरें भी भेजी हैं, जिन पर हिन्दू और देश विरोधी नारे लिखे हैं, जैसे, 'कश्मीर तो बस झाँकी है, पूरा भारत बाकी है'' और ''ब्राह्मणों तेरी कब्र खुदेगी BHU की धरती पर।''

शाहीनबाग़ में 'बुलडोज़र' का खौफ, सड़कों पर पड़ा सामान खुद ही हटाने लगे लोग

राष्ट्रभाषा नहीं राजभाषा है हिंदी, जानिए अंतर

'2 मई तक खाली कर दें सरकारी बंगले..', मोदी सरकार ने 8 जाने माने कलाकारों को भेजा नोटिस

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -