महिला विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में अनामिका ने जीत के साथ शुरू किया अपना सफर

भारतीय मुक्केबाज अनामिका (50 किग्रा) IBA महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप के अपने पहले मैच में गुरुवार को कौशल और तकनीकी श्रेष्ठता का शानदार प्रदर्शन करते हुए रोमानिया की यूजेनिया एंजेल को मात दे दिया है। अनामिका ने इस्तांबुल में खेली जा रही प्रतियोगिता में सभी जज के सर्वसम्मत फैसले से जीत हासिल करते हुए प्री-क्वार्टर फाइनल का टिकट भी अपने नाम कर लिया है। मुकाबले की शुरुआत में दोनों खिलाड़ियों ने एक-दूसरे पर मुक्कों की बौछार कर दी लेकिन अनामिका ने शानदार फुटवर्क का इस्तेमाल करते हुए अपना बचाव भी अपने नाम कर लिया है और प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ी पर जवाबी हमला बोल दिया है।

रोहतक की इस मुक्केबाज ने दूसरे दौर में भी अपना दबदबा बनाये रखा और आसानी से 5-0 के अंतर से जीतकर अगले दौर में आ चुके है। अनामिका का अगला मुकाबला रविवार को विश्व चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता आस्ट्रेलिया की क्रिस्टी ली हैरिस से होने वाला है। इससे पहले बुधवार को देर शाम स्वीटी (75 किग्रा) को इंग्लैंड की कैरी डाविस से 2-3 से हार को झेलना पड़ गया है।

इसके पहले खबर थी कि टोक्यो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता लवलीना बोरगोहेन इस्तांबुल में सोमवार से शुरू हो रही IBA महिला वर्ल्ड मुक्केबाजी चैंपियनशिप के 12वें सत्र के पहले दिन पूर्व चैम्पियन चेन निएन-चिन से भिड़ने वाली है। टूर्नामेंट में भारतीय मुक्केबाजों को मिश्रित ड्रॉ मिला है जिसमें बोरगोहेन (70 किग्रा) के मुकाबले से इंडियन अभियान शुरू होने वाला है। बोरगोहेन टोक्यो ओलंपिक के क्वार्टर फाइनल में निएन-चिन को हरा चुकी है लेकिन चीनी ताइपे की मुक्केबाज ने इस टूर्नामेंट के 2018 और 2016 सत्र में क्रमश: स्वर्ण और कांस्य पदक को भी अपने नाम कर चुकी है।

चेन्नई को मात देते ही मुंबई के नाम दर्ज हुआ ये बड़ा रिकॉर्ड, प्लेऑफ की दौड़ से बाहर हुई धोनी की टीम

डि ब्रूएन के 4 गोल दागने से मैनचेस्टर सिटी ने हासिल की बड़ी जीत

Elina Svitolina ने मांगी जूनियर प्लेयर्स की बेहतर मानसिक स्वास्थ्य सुरक्षा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -