साक्षी मलिक ने कुश्ती महासंघ के निलंबन का स्वागत किया, बोलीं- हमारी लड़ाई सरकार से नहीं
साक्षी मलिक ने कुश्ती महासंघ के निलंबन का स्वागत किया, बोलीं- हमारी लड़ाई सरकार से नहीं
Share:

नई दिल्ली: पहलवान साक्षी मलिक ने केंद्रीय खेल मंत्रालय द्वारा भारतीय कुश्ती महासंघ की नवनिर्वाचित संस्था को निलंबित करने पर रविवार को प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह घटनाक्रम पहलवानों के सर्वोत्तम हित में है। अध्यक्ष संजय सिंह द्वारा इस साल के अंत से पहले नंदिनी नगर, गोंडा (यूपी) में होने वाली अंडर-15 और अंडर-20 राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं की घोषणा के बाद केंद्रीय खेल मंत्रालय ने हाल ही में चुनी गई कुश्ती संस्था को निलंबित कर दिया।

मलिक ने दिल्ली में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि, "हमारी लड़ाई सरकार से नहीं थी। हमारी लड़ाई महिला पहलवानों के लिए है। मैंने संन्यास की घोषणा कर दी है, लेकिन चाहती हूं कि आने वाले पहलवानों को न्याय मिले।" खेल मंत्रालय के सूत्र के हवाले से एक रिपोर्ट के अनुसार, मंत्रालय ने WFI को समाप्त नहीं किया है; "उन्हें एक खेल संस्था के रूप में कार्य करते समय उचित प्रक्रिया और नियमों का पालन करने की आवश्यकता है।" उल्लेखनीय है कि, WFI के पूर्व प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह की करीबी सहयोगी सिंह को बुधवार को कुश्ती संस्था का अध्यक्ष चुना गया था, जिसके बाद मलिक ने घोषणा की थी कि उन्होंने खेल छोड़ दिया है।

मलिक ने अन्य शीर्ष पहलवानों बजरंग पुनिया और विनेश फोगाट के साथ भाजपा सांसद और WFI के पूर्व प्रमुख बृज भूषण सिंह द्वारा लगाए गए यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच की मांग को लेकर लंबे समय तक विरोध प्रदर्शन किया था। बाद में, पुनिया ने सिंह की नियुक्ति के विरोध में अपना पद्म श्री पुरस्कार लौटाने के फैसले की भी घोषणा की। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को एक पत्र संबोधित करते हुए, पुनिया ने भारत में कुश्ती प्रशासन की वर्तमान स्थिति के बारे में अपनी चिंता व्यक्त की थी।

इस बीच, निलंबन की खबर पर प्रतिक्रिया देते हुए संजय सिंह ने कहा कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं है। उन्होंने पत्रकारों से कहा कि, "मैं एक फ्लाइट में था, और मुझे विस्तृत जानकारी नहीं है। मुझे पत्र भी नहीं मिला है। मैं पहले पत्र को देखूंगा और फिर कोई कदम उठाऊंगा। मैं अभी कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता।“ 

भारतीय कुश्ती महासंघ को खेल मंत्रालय ने किया निलंबित, हाल ही में हुए थे अध्यक्ष पद के चुनाव

कुश्ती महासंघ विवाद पर बोले हरियाणा के उप मुख्यमंत्री- भावनाओं पर काबू रखें खिलाड़ी

'अगर मैं क्रिकेटर न होता, तो...', शुभमन गिल ने जो पेशा और कारण बताया, वो लोटपोट कर देगा, Video

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -