मुजफ्फरनगर दंगे को ओवैसी ने बताया सबसे भयानक

लखनऊ: एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने हाल ही में एक बयान देते हुए कहा- 'विभाजन के बाद मुजफ्फरनगर दंगे सबसे भयानक थे और तत्कालीन सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी पीड़ितों को न्याय प्रदान करने में विफल रही।' जी दरअसल हैदराबाद के सांसद औवेसी ने मुजफ्फरनगर गए थे और यहाँ उन्होंने पार्टी की एक रैली को संबोधित करते हुए यह सब कहा। यहाँ उन्होंने दावा किया कि, 'लोगों को अपने घरों और मस्जिदों को छोड़ने के लिए मजबूर किया गया था।'

इसी के साथ उन्होंने अखिलेश यादव के नेतृत्व वाली समाजवादी पार्टी पर मुसलमानों को केवल वोट बैंक मानने का भी आरोप लगाया। उन्होंने यह भी दावा किया कि, 'वे उत्तर प्रदेश में एआईएमआईएम की उपस्थिति नहीं चाहते क्योंकि पार्टी अल्पसंख्यकों के मुद्दों को उठाती रही है।' इसी के साथ उन्होंने लोगों से अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों में अपनी पार्टी को वोट देने का आह्वान किया। उन्होंने यह भी दावा किया कि, 'उनकी पार्टी न केवल मुसलमानों बल्कि हिंदुओं और दलितों के मुद्दों को भी उठाती रही है।'

आगे उन्होंने जाट-मुस्लिम वोटरों पर सेंध मारते हुए कहा, 'लोकसभा चुनाव में जाटों ने बीजेपी को वोट देकर जिताया। जब जाट चौधरी अजीत सिंह को हराकर उन्हें छोड़ सकते हैं तो मुसलमान पुरानी रवायत क्यों नहीं छोड़ रहे हैं? 19 फीसद मुसलमान आज सियासी तौर पर मोहताज हैं। यहां मुस्लिम सपा-बसपा को वोट देते रहे और दंगों का शिकार बनते रहे इसलिए हमें अपने वोट की सियासी ताकत पहचाननी होगी।' आगे उन्होंने यह भी कहा, 'भारत में आजादी का मतलब है, जिसकी लाठी उसकी भैंस। जब मुसलमानों की नाइंसाफी की बात होती है तो सपा-बसपा-आरएलडी के नेताओं के माइक बंद हो जाते हैं।'

शेख रशीद पर भड़के ओवैसी, कह डाला पागल

T20 वर्ल्ड कप: ओवैसी भी भारत-पाक मैच के विरोध में उतरे, कही ये बात

ओवैसी नहीं करना चाहते शाहरुख़ के बेटे का सपोर्ट, कहा- 'उसके पापा...'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -