इस शहर के कब्रिस्तान में एडवांस में खुदवाई गई कब्रें, लोगों की बढ़ी चिंता

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना का प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है. वहीं, शहर से कोरोना संकट के बीच कब्रों की अग्रिम तैयारी का मामला सामने आया है. जहांगीराबाद कब्रिस्तान में जेसीबी लगाकर एक साथ 12 कब्र खुदवाई गई हैं. शहर में पहली बार ऐसा हो रहा है. यहां तक कि गैस त्रासदी के वक्त भी ऐसी नौबत नहीं आई थी. कमेटी का तर्क है, रमजान और लॉकडाउन के वजह से लेबर नहीं मिल पा रहे हैं. उधर, जहांगीराबाद कोरोना के लिहाज से प्रदेश का सबसे बड़ा हाॅट स्पॉट बना हुआ है. एडवांस में कब्र खोदने से लोगों की चिंता बढ़ा दी है.

बता दें की जहांगीराबाद के जद्दा कब्रिस्तान में दो दिन पहले ये सभी कब्र थोड़े-थोड़े फासले पर खोदी गई हैं. इस काम के लिए जेसीबी की मदद ली गई है. हालांकि गुरुवार शाम तक यहां कोई दफ़न नहीं हुआ था. खुदी हुई मिटी फ़ैली हुई है. एडवांस में कब्र खोदने के लिए किसी तरह की अनुमति भी नहीं ली गई है. ऐसा शहर के किसी अन्य कब्रिस्तान में नहीं हुआ है. कमेटी के अनुसार एक शव को दफनाने में  2 से 3 घंटे का वक्त लगता है. लॉकडाउन के वजह से  लेबर बुलाने में काफी दिक्कत आ रही है. रात में कोई शव आने पर मजदूरों को बुलाने में काफी दिक्कत आती है. जबकि आसपास के बड़े इलाके में किसी का इंतकाल होने पर लोग यही दफन करने के लिए लाते हैं.

हालांकि जमील खान, एसडीएम सिटी के अनुसार, कोरोना के चलते शहर के ज्यादातर कब्रिस्तान बंद हो गए हैं. अब जहांगीराबाद कब्रिस्तान में शवों को दफनाया जा रहा है. ये जानकारी सामने आई है कि रोजे के चलते यहां एडवांस में कब्र खाेदकर रख दी गई है. इस मामले में कमेटी से बात हुई है, जब मशीनें हैं तो एडवांस में कब्र खाेदने की क्या जरूरत है.

आज शिवराज सरकार केंद्र को भेजेंगी सिफारिश, लॉकडाउन में मिल सकती है कुछ राहत

पूजा के लिए पानी भरने गया था लड़का, दबंगों ने पिला दी पेशाब

कोरोना संक्रमितों का डेथ जोन बन चुका है यह क्षेत्र, लोगों को किया जा रहा शिफ्ट

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -