केरल में बाढ़ से तबाही और मध्य प्रदेश के 14 जिलों में औसत से भी कम बारिश

Aug 19 2018 02:51 PM
केरल में बाढ़ से तबाही और मध्य प्रदेश के 14 जिलों में औसत से भी कम बारिश

भोपाल। एक तरफ देश के दक्षिणी राज्यों में लोग भारी बारिश और बाढ़ से परेशान हो रहे है तो वही दूसरी तरफ मध्यप्रदेश के कई जिलों में  औसत से भी काफी कम बारिश हो रही है। 

केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए रेल्वे का बड़ा फैसला

मध्यप्रदेश के मौसम विभाग के मुताबिक मानसून के लगभग ढाई महीने गुजर जाने के बाद भी राज्य के 14 जिलों में औसत से कम बारिश दर्ज की गई है। इन जिलों में  भोपाल, सागर, देवास, हरदा, धार, बैतूल, अनूपपुर, बालाघाट, सतना, अलीराजपुर, अशोकनगर, छतरपुर, सिवनी और डिंडोरी जैसे जिले शामिल है। मौसम विभाग द्वारा जारी एक रिपोर्ट के अनुसार, राज्य में इस वर्ष मानसून के दौरान प्रदेश के 51 में से 14 जिले अभी भी अच्छी बारिश का इंतजार कर रहे हैं। हालांकि राज्य के चार जिलों भिंड, नीमच, उमरिया और सिंगरौली में सामान्य से 20 प्रतिशत अधिक वर्षा भी दर्ज की गई है।  

केरल बाढ़ : शनिवार को 33 लोगों ने गंवाई जान, मरने वालों की संख्या हुई 357

गौरतलब है कि यह खबर ऐसे वक्त में आई है जब देश के कई राज्य भरी बारिश की मार झेल रहे है। केरल में तो पिछले 100 सालों की सबसे भीषण बाढ़ चल रही है। इस बाढ़ की वजह से अब तक 357 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और लाखों लोग बेघर हो चुके है। 

ख़बरें और भी 

केरल ने ली राहत की साँस, सभी जिलों से रेड अलर्ट ख़त्म

बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए प्रिया प्रकाश ने लगाई गुहार

केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए कॉलेज छात्रा ने इक्कठा किये डेढ़ लाख रुपये