प्रोफेसर ने कहा- कोल्ड ड्रिंक की खुली हुई बोतल की तरह होता है लड़कियों का कौमार्य...

Jan 14 2019 11:32 AM
प्रोफेसर ने कहा-  कोल्ड ड्रिंक की खुली हुई बोतल की तरह होता है लड़कियों का कौमार्य...

हाल ही में पश्चिम बंगाल के जाधवपुर विश्वविद्यालय के प्रोफेसर ने महिलाओं को लेकर ऐसा बयान दिया है, जिसे लेकर सभी हैरान हैं. जी हाँ, और उस बयान के कारण उनकी आलोचना हर जगह हो रही है. जी हाँ, कोलकाता स्थित विश्वविद्यालय के प्रोफेसर कनक सरकार ने महिलाओं के कौमार्य को लेकर एक बहुत ही विवादित बयान दिया है. आप सभी को बता दें कि कनक सरकार ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट के जरिए महिलाओं को कौमार्य की तुलना पेप्सी के ढक्कन और बिस्कुट के पैकेट से की है, और अब इसी वजह से हर तरफ उनकी आलोचना हो रही है. आप सभी को बता दें कि कनक सरकार ने महिलाओं के कौमार्य को लेकर लिखा है कि, ''वर्जिन दुल्हन- आखिर क्यो नही.'' इन सभी में सबसे ज्यादा गौर करने वाली बात यह है कि उन्होंने इसे युवाओं के लिए मूल्य आधारित सामाजिक काउंसलिंग का नाम दिया है.

वहीं अपनी पोस्ट में उन्होंने लिखा है कि, ''कई लड़के हमेशा बेवकूफ रहते हैं, उन्हें वर्जिन लड़की के तौर पर पत्नी की जानकारी ही नहीं होती है. वर्जिन लड़की किसी सील बंद कोल्ड ड्रिंक की बोतल की तरह या फिर किसी सील्ड पैकेट की तरह होती है. क्या आप टूटी हुई सील वाली कोल्ड ड्रिंक की बोतल खरीदेंगे, या फिर पैकेट खुला बिस्कुट.'' वहीं आगे उन्होंने बिस्कुट के पैकेट और कोल्ड ड्रिंक के बोतल की तुलना महिलाओं के कौमार्य से करते हुआ कहा कि, ''जिस तरह से कोल्ड ड्रिंक की खुली हुई बोतल या फिर बिस्कुट का खुला हुआ पैकेट होता है ही महिलाओं का कौमार्य भी होता है. ठीक इसी तरह से आपकी पत्नी के भी मामले में होता है.'' आगे उन्होंने लिखा है एक लड़की जन्म के बाद से जैविक रूप से सील बंद होती है, जबतक कि उसे खोला नहीं जाए. एक वर्जिन लड़की का मतलब होता है कि उसके संस्कार और यौन स्वास्थ्य जुड़ा होता है. कई लड़कों के लिए वर्जिन लड़की परी की तरह होती है.''

वैसे यह पहली बार नहीं है जब कनक सरकार ने ऐसा कोई विवादित पोस्ट किया हो बल्कि वह इससे पहले ऐसे पोस्ट कर चुके हैं.

बेटी को पत्नी समझकर पास लेट गया बाप और बनाने लगा संबंध...

शिकायत दर्ज कराने से नाराज बदमाशों ने वृद्ध को पीट-पीट कर मारा

कारोबारी के घर लाखों की डकैती, बेटे व पोते को मारी गोली