30 अप्रैल की जगह 3 मई तक क्यों बढ़ाया गया लॉक डाउन ? जानिए वजह

30 अप्रैल की जगह 3 मई तक क्यों बढ़ाया गया लॉक डाउन ? जानिए वजह
Share:

नई दिल्ली: कोरोना महामारी के चलते देश में लॉकडाउन की मियाद को बढ़ाकर 3 मई कर दी गई है. पीएम नरेंद्र मोदी के ऐलान से पहले कई राज्य सरकारों ने अपने यहां 30 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन बढ़ा दिया था, किन्तु अबकेंद्र ने पूरे देश में 3 मई तक लॉकडाउन को लागू करने का फैसला लिया है. अब सबके मन में यह प्रश्न है कि आखिर लॉकडाउन को 3 मई तक क्यों बढ़ाया गया है.

दरअसल, एक मई को सार्वजनिक छुट्टी है, दो मई को शनिवार और तीन मई को रविवार. यही वजह है कि केंद्र सरकार ने लॉकडाउन को तीन मई तक बढ़ाने का निर्णय लिया है. राज्य सरकारों ने केंद्र सरकार से लॉकडाउन को 30 अप्रैल तक बढ़ाने की सिफारिश की थी, किन्तु केंद्र सरकार ने छुट्टियों को देखते हुए इसे 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया है. सरकारी सूत्रों का कहना है कि तीन दिन की छुट्टियों की वजह से लोग अधिक संख्या में घर से बाहर निकलेंगे और सोशल डिस्टेनसिंग को लेकर समस्या आएगी. इस वजह से लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ा दिया गया है.

आपको बता दें कि सबसे पहले ओडिशा ने लॉकडाउन को 30 अप्रैल तक बढ़ाया था. फिर पंजाब ने 1 मई तक, महाराष्ट्र ने 30 अप्रैल तक, तेलंगाना ने 30 अप्रैल तक, राजस्थान ने 30 अप्रैल तक, कर्नाटक ने दो सप्ताह तक, पश्चिम बंगाल ने 30 अप्रैल तक और तमिलनाडु ने 30 अप्रैल तक बढ़ाया. इसके अलावा पूर्वोत्तर के अरुणाचल प्रदेश, मिजोरम और मेघालय भी लॉकडाउन की अवधि को 30 अप्रैल तक बढ़ा चुके हैं.

आखिर कोरोना को रोकने में कितनी हद तक सफल हो पाया भारत ? जानें

भगवान महाकाल की दर पर भक्तों का पड़ा अकाल, प्रशासन उपलब्ध करा रहा मदिरा

अगर केंद्र और राज्य के लॉकडाउन में है कंफ्यूज तो, जानें क्या है अंतर

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -