केरल में दस्तक देगा मानसून, दिल्ली में गरज के साथ बारिश के आसार

नई दिल्ली: देश के विभिन्न राज्यों में भीषण गर्मी (Weather Update of States) का प्रकोप नजर आ रहा है। हालाँकि इस बीच एक अच्छी खबर ये आई है कि, 'मानसून भी जल्द ही दस्तक देने वाला है।' आप सभी को बता दें कि अंडमान और निकोबार द्वीप समूह पर जल्दी पहुंचने के बाद दक्षिण पश्चिम मॉनसून केरल (Monsoon in Kerala) की तरफ बढ़ रहा है और मौसम विभाग ने अगले हफ्ते के मध्य तक प्रदेश में इसके दस्तक देने की संभावना जताई है।

वहीं भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बीते बृहस्पतिवार की शाम को बताया, हफ्ते के अंत तक केरल में दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के आगे बढ़ने के लिए स्थितियां अनुकूल बनी रहेंगी। ऐसे में अगर इस हफ्ते के अंत तक केरल में दक्षिण पश्चिम मॉनसून की शुरुआत होती है, तो हाल के वर्षों में ऐसा पहली बार होगा। हालाँकि इससे पहले मानसून 2009 में 23 मई को केरल पहुंचा था। आप सभी को बता दें कि मौसम विभाग ने पांच दिन पहले 27 मई तक केरल में मॉनसून के शुरूआत की भविष्यवाणी की थी। वैसे तो आमतौर पर केरल में एक जून को मॉनसून पहुंचता है।

ऐसे में विभाग ने कहा कि हफ्ते के कई दिन केरल तथा तटीय और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में भी भारी बारिश होने का अनुमान है। वहीं देश के असम राज्य में भीषण बाढ़ आई हुई है और त्रिपुरा में भी भारी बारिश हो रही है। बीते गुरुवार को त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक साहा ने भारी बारिश के बाद अगरतला में जलभराव वाले मार्गों और प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया है। हालाँकि कुछ राहत के बाद, बीते बृहस्पतिवार को पूरे पश्चिमोत्तर भारत में तापमान बढ़ गया है और बाड़मेर में 47।1 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया, जो देश में सर्वाधिक अधिकतम तापमान है। इसी के साथ राजधानी दिल्ली में शुक्रवार को तेज हवाएं चलने के आसार हैं। वहीं भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने यह जानकारी दी है।

जी हाँ और इस बीच राष्ट्रीय राजधानी में भीषण गर्मी का दौर जारी है। वहीं दिल्ली में बीते बृहस्पतिवार को अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री अधिक 43।6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 27।5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। आप सभी को बता दें कि मौसम विभाग ने बीते शुक्रवार को दिन में आंशिक रूप से बादल छाए रहने और शाम को गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना जताई है। जी दरअसल मौसम विभाग का कहना है आज यानी शुक्रवार को 20-30 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलेंगी। अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 44 डिग्री सेल्सियस और 29 डिग्री सेल्सियस के आस-पास रहने की संभावना है। इसी के साथ मौसम विभाग ने शनिवार को धूल भरी आंधी के साथ तेज हवाओं के चलने के मद्देनजर येलो अलर्ट भी जारी किया है।

इसके अलावा 23 और 24 मई के लिए भी येलो अलर्ट जारी किया गया है। वहीं आने वाले तीन से चार दिनों तक आसमान में आंशिक रूप से बादल छाए रहने और गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। इसके अलावा राजस्थान के अधिकतर हिस्सों में बीते गुरूवार को लू (गर्म हवाओं) का प्रकोप बना रहा और सभी प्रमुख स्थानों पर तापमान में एक डिग्री से चार डिग्री सेल्सियस तक की वृद्धि दर्ज की गई। जी दरअसल भारत के मौसम विभाग (आईएमडी) ने यह जानकारी दी।

वहीं विभाग के अनुसार राज्य के सभी प्रमुख स्थानों पर दिन का तापमान सामान्य से दो डिग्री से पांच डिग्री तक अधिक दर्ज किया गया। इसके अलावा उन्होंने बताया कि बाड़मेर और धौलपुर में भीषण लू के चलने और तापमान में वृद्धि की वजह से लोगों को प्रचंड गर्मी का सामना करना पड़ा और आम जनजीवन प्रभावित रहा। इसी के साथ राज्य के अन्य प्रमुख शहरों में भी बृहस्पतिवार क लू का प्रकोप बना रहा।

कन्नड़ तटीय जिलों में भारी बारिश, स्कूलों के लिए छुट्टी की घोषणा

बैंगलोर में भारी बारिश से दो मजदूरों की मौत, पाइपलाइन में पाए गए शव

दिल्ली-NCR में सुहावना हुआ मौसम, इन राज्यों में आज होगी बारिश

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -