तालिबान की धमकी, अमेरिका बात करे वरना अफ़ग़ानिस्तान में जारी रहेंगे हमले

Aug 19 2018 01:54 PM
तालिबान की धमकी, अमेरिका बात करे वरना अफ़ग़ानिस्तान में जारी रहेंगे हमले

बगदाद: अफ़ग़ानिस्तान में आतंकियों के खिलाफ लम्बी लड़ाई के बाद भी अफ़ग़ान के कुछ इलाकों पर तालिबान का कब्ज़ा है, हालाँकि अमेरिका की अफगानिस्तान में उपस्थिति से तालिबान परेशान जरूर है. हाल ही में तालिबान के नेता ने एक बयान जारी करते हुए कहा है कि जब तक अमेरिका, तालिबान से सीधी बातचीत के लिए तैयार नहीं हो जाता तब तक अफ़ग़ानिस्तान में शांति क़ायम नहीं हो सकती.

यमन हमले में इस्तेमाल हुआ बम अमेरिकी था, रिपोर्ट में हुआ खुलासा

ईद-उल-जुहा के मौके पर जारी किए गए संदेश में मौलवी हैबतुल्ला अखुनजादा ने कहा कि तालिबान ‘इस्लामिक लक्ष्यों’ और अफगानिस्तान की संप्रभुता और युद्ध को खत्म करने के लिए प्रतिबद्ध है. इससे पहले अफ़ग़ान सरकार ने तालिबान से बात करके उसकी इच्छा जानना चाही थी, लेकिन तालिबान ने इंकार कर दिया था.

बांग्लादेश : राजनीतिक पार्टियों में लड़ाई 6 की मौत

इस आतंकी संगठन का कहना है कि वर्तमान अफगानी सरकार अमेरिका के इशारे पर चलने वाली है, ऐसे में अफ़ग़ान सरकार से बात करके कोई मकसद हासिल नहीं होगा, इसके लिए वो अमेरिकी प्रशासन से सीधी बात करना चाहते हैं. आतंकी संगठन तालिबान ने कहा है कि अगर अमेरिकी सेना और नाटो सेनाएं अफ़ग़ानिस्तान की जमीन से वापिस चली जाती हैं तो वे अफगानी इलाकों पर हमला बंद कर देंगे, अब देखना ये है कि क्या अमेरिका सरकार तालिबान के इस मांग को मानती है या तालिबान हमले जारी रखता है. 

खबरें और भी:-

इमरान की पार्टी से राष्ट्रपति उम्मीदवार घोषित, 4 सितम्बर को होंगे चुनाव

भारत के लिए खुशखबरी, अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद का राईट हैंड मोती लंदन से गिरफ्तार

आतंक, सेना और कर्ज का क्या जवाब है इमरान के पास

?