वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिए हो सकता है यूपी का मानसून सत्र, स्पीकर ने दिए संकेत

Jun 28 2020 04:32 PM
वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिए हो सकता है यूपी का मानसून सत्र, स्पीकर ने दिए संकेत

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा का मॉनसून सत्र वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अगस्त में आयोजित किया जा सकता है. इस संबंध में विचार किया जा रहा है. हालांकि इसको लेकर अंतिम फैसला राज्य सरकार और सीएम योगी आदित्यनाथ लेंगे. विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने संभावना जताते हुए कहा कि अगस्त में विधानसभा सत्र आयोजित किया जा सकता है. 

उन्होंने कहा कि हमारे पास मौजूद एक अन्य विकल्प लोक भवन में सत्र आयोजित करना है. लोकभवन में सभी विधायकों के बैठने के लिए पर्याप्त जगह है. क्या आगामी सत्र ब्रिटिश संसद द्वारा आयोजित 'हाइब्रिड सेशन' की तरह भी हो सकता है ? इससे इंकार करते हुए विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि ऐसा कोई विचार नहीं है. बता दें कि कोरोना महामारी के कारण ब्रिटिश संसद ने अप्रैल में हाउस ऑफ कॉमंस का हाइब्रिड सत्र आयोजित किया था, जिसमें सदन के भीतर 10 से 12 सदस्य ही मौजूद होते थे और बाकी सदस्य वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सदन की कार्यवाही में शामिल होते थे. सदन में सदस्यों की मौजूदगी बारी-बारी से आने की प्रणाली पर आधारित थी.

यूपी विधानसभा में 403 सदस्य हैं, जिनके बैठने के लिए सदन के भीतर लगभग इतनी ही सीटें उपलब्ध हैं. कोरोना महामारी को देखते हुए सरकार ने सामाजिक दूरी को अनिवार्य कर दिया है, लिहाजा विधानसभा के भीतर सभी सदस्यों को एक निश्चित दूरी पर बैठाने के लिए जगह नहीं है.

आखिर क्यों व्यापारिक वेबसाइट बना रहा एसबीआई ?

आखिर क्यों डायबिटीज मरीजों के लिए घातक है कोरोना ?

केरल में सूनसान पड़ी ​​​थी गलियां, आज से सड़कों पर नजर आई आमजनता