एआईएडीएमके ने कुछ स्वार्थी लोगों के कारण अपनी पहचान खो दी है- दिनाकरन

चेन्नई: एएमएमके नेता टीटीवी दिनाकरन ने मंगलवार को एआईएडीएम के नेतृत्व पर एक गंभीर हमला किया, उन्होंने कहा कि सत्तारूढ़ दल ने अपनी पहचान खो दी है और कुछ स्वार्थी लोगों के कारण उसकी छवि ख़राब हो गई है. पार्टी से हटाए गए एआईएडीएमके नेता ने यह भी दावा किया कि उनकी अम्मा मक्कल मुनेत्र कझागम (एएमएमके), सत्तारूढ़ पार्टी को पुनः स्थापित करेगी.

मध्य प्रदेश : अपने दो दिवसीय दौरे पर प्रदेश आएंगे अमित शाह

उन्होंने बिना किसी का नाम लिए कहा कि कोई भी इस तथ्य से इंकार नहीं कर सकता कि पार्टी ने अपनी पहचान और विचारधारा खो दी है और पार्टी अम्मा (दिवंगत जे जयललिता) द्वारा निर्धारित मार्ग से दूर हो गई है. वह स्पष्ट रूप से एआईएडीएमके को ऑर्डिनेटर ओ पन्नीरसेल्वम और संयुक्त समन्वयक के पलानिसवामी पर निशाना साध रहे थे, जिनके साथ वह सत्ताधारी पार्टी के नियंत्रण के लिए चल रहे विवाद में हैं. उल्लेखनीय है कि पलनिस्वामी तमिलनाडु के मुख्यमंत्री हैं जबकि पन्नीरसेल्वम उप-मुख्यमंत्री हैं.

अब रेल यात्रियों को टिकिट के लिए नहीं लगना होगा लाइन में रेलवे ने दी नई सेवा

17 अक्टूबर को एआईएडीएमके के संस्थापक दिवस से पहले पार्टी के लोगों को लिखे एक पत्र में धीनाकरन ने कहा था कि दिवंगत मुख्यमंत्री  एम जी रामचंद्रन ने इस पार्टी को लॉन्च किया था, जयललिता ने इसे आगे बढ़ाया और इसे राज्य में एक प्रमुख आंदोलन बना दिया, लेकिन 2016 में जयललिता की मृत्यु के बाद कुछ स्वार्थी लोगों ने पार्टी पर कब्ज़ा कर लिया. उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी एएमएमके, एआईएडीएमके को पुनर्स्थापित करेगी और उसका पुराना गौरव बहाल वापिस लौटाएगी. 

खबरें और भी:-

सोमवार को शेयर बाजार की हुई धीमी शुरूआत, 74 के पास पहुंचा रूपया

मास्टर, वीजा कार्ड आज से होंगे बंद, आरबीआई का आदेश

क्रेडिट कार्ड गुम होने पर भी आप ले सकते हैं मुआवजा राशि

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -