लापता हुए तोगड़िया बेहोशी की हालत में मिले

अहमदाबाद. विश्व हिंदी परिषद के अंतरष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया सोमवार को अचानक से लापता हो गए थे. देर रात इनका पता चल गया. उन्हें बेहोशी की हालत में अहमदाबाद के शाहीबाग के करीब चंद्रमणि अस्पताल में भर्ती कराया गया. पुलिस इस मामले की जांच कर रही है. तोगड़िया को लेकर सोमवार के पुरे दिन हंगामा चलता रहा. जानकारी के मुताबिक शुगर के लो हो जाने की वजह से वे रस्ते में ही बेहोश हो गए थे. उन्हें संजीवनी 108 एम्बुलेंस से अस्पताल में भर्ती कराया गया.
 
विश्व हिन्दू परिषद् ने दावा किया था कि राजस्थान पुलिस उन्हें लेकर गई है लेकिन सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक तोगड़िया को न ही राजस्थान पुलिस लेकर गई थी और न ही गुजरात पुलिस. दस साल पहले राजस्थान के गंगापुर सिटी में उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था और उनके खिलाफ एक वारंट भी जारी हुआ था. इस वारंट के साथ जब राजस्थान पुलिस अहमदाबाद पहुंची तो उन्हें प्रवीण नहीं मिले. उनकी गिरफ़्तारी की जानकारी सुनते ही महेसाणा, जूनागढ़ और नवसारी में विहिप कार्यकर्ताओं ने सड़क पर चक्का जाम और हंगामा शुरू कर कर दिया. प्रवीण के खिलाफ धारा 188  के तहत उनके खिलाफ गिरफ़्तारी का वारंट जारी हुआ था. प्रवीण के बेटे आकाश का कहना है कि उनके पिता के लापता होने की जिम्मेदार गुजरात सरकार है. 

अपराध शाखा के सीनियर अधिकारी ने बताया कि तोगड़िया सोमवार की अल-सुबह पालदी इलाके से विहिप मुख्यालय से एक रिक्शा में चढ़े थे और तभी से वे लापता है. रात में वे विहिपि के प्रदेश मुख्यालय में मौजूद थे. 

वहीँ अहमदाबाद और सूरत के कई हिस्सों में विहिप के कार्यकर्ताओ द्वारा प्रदर्शन जारी है. विहिप ने दावा किया है कि तोगड़िया को राजस्थान पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. इन कार्यकर्ताओं ने सोला ठाणे का घेराव भी किया, नारे लगाए और पुलिस से तत्काल तोगड़िया का पता लगाने की मांग की गई थी. जानकारी के लिए बता दे कि प्रवीण तोगड़िया को जेड सुरक्षा प्रदान की गई है.

इधर, विहिप कार्यकर्ताओं ने अहमदाबाद और सूरत के विभिन्न हिस्सों में प्रदर्शन किये और ‘लापता’ नेता का जल्द पता लगाये जाने की मांग की. विहिप ने दावा किया कि तोगड़िया को राजस्थान पुलिस ने हिरासत में ले लिया. विहिप कार्यकर्ताओं ने सोला थाने का घेराव किया, नारे लगाये और सरकेहज-गांधीनगर राजमार्ग पर यातायात अवरुद्ध कर पुलिस से तत्काल तोगड़िया का पता लगाने की मांग की थी.

ताजमहल को निहारेंगे नेतन्याहू

अफगानिस्तान में भारतीय दूतावास पर हमला, सभी कर्मचारी सुरक्षित

जस्टिस लोया के मामले में सुनवाई होगी आज

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -