मुस्लिम युवाओं को झूठे आरोपों में पकड़ना चिंताजनक हैः कानून मंत्री

अलीगढ़ : केंद्रीय कानून मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने कहा कि मुस्लिम युवाओं को झूठे आरोपों में गिरफ्तार करना चिंताजनक है। इसके बाद सबूत न मिलने पर उन्हें छोड़ दिया जाता है। ऐसे मामलों में कानूनी सुधार की जरुरत है। मोदी सरकार के दो वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में मनाए जा रहे विकास पर्व में शामिल होने के लिए गौड़ा अलीगढ़ पहुंचे थे।

लॉ कमीशन मुस्लिम यूथ्स को इस तरह अरेस्ट करने को लेकर क्रिमिनल प्रोसीजर में बदलाव की तैयारी कर रहा है। इसके तहत बेल और प्रॉसिक्यूशन में होने वाली गड़बड़ियों को दूर किया जाएगा। गौड़ा ने ये भी कहा कि इसके लिए सुप्रीम कोर्ट के जज की अगुआई में एक पैनल रिपोर्ट तैयार किया जाएगा। रिपोर्ट तैयार करने में कई लीगल एक्सपर्ट्स की मदद भी ली जाएगी।

करीबन एक सप्ताह पहले केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि सरकार आतंकी जांच के लिए एख प्रक्रिया तैयार करने वाली है। साथ ही पुलिस को भी सलाह दी जा रही है कि वो अपना रवैया नरम रखें। हाल ही में दिल्ली से जैश के 10 आतंकियों को गिरफ्तार किए जाने के मामले में राजनाथ ने कहा कि हमने 3 को ही अरेस्ट किया। बाकी 7 को छोड़ दिया। हम बैलेंस बनाकर काम कर रहे हैं। इस तरह के मामलों में पहले सभी को जेल भेज दिया जाता था।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -