राजद की बैठकों से लगातार नादारद हैं तेजस्वी यादव, भाजपा-जदयू ने ऐसे कसा तंज

राजद की बैठकों से लगातार नादारद हैं तेजस्वी यादव, भाजपा-जदयू ने ऐसे कसा तंज

पटना: बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव लगातार पार्टी की बैठकों से नदारद हैं. मानसून सत्र में भी उनकी उपस्थिति कम देखी गई थी. अगले वर्ष बिहार में विधानसभा के चुनाव हैं ऐसे में तेजस्वी यादव की अनुपस्थिति राष्ट्रीय जनता दल को परेशान कर रही है वहीं दूसरी तरफ सत्तारूढ़ जनता दल यूनाइटेड ने आरजेडी के चार हिस्सों में बंटने की आशंका जताई है.

भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) ने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) को नेतृत्वहीन पार्टी करार दिया है. शनिवार को राजद की एक अहम बैठक थी. बैठक में तेजस्वी यादव को शामिल होना था लिहाजा आरजेडी के कार्यकर्ता जोश खरोश के साथ एयरपोर्ट पहुंचे, किन्तु तेजस्वी यादव नहीं आए.  पार्टी की बैठकों से तेजस्वी यादव की लगातार अनुपस्थिति पर बिहार में सत्तारूढ़ भाजपा और जेडीयू ने सवाल उठाए हैं. हालांकि आरजेडी इससे इत्तेफाक नहीं रखती है. 

पार्टी प्रवक्ता शिवानंद तिवारी के अनुसार, आरजेडी का लगातार विस्तार हो रहा है सदस्यता अभियान भी चरम पर हैं और पार्टी मजबूती से अगले वर्ष प्रस्तावित विधानसभा चुनाव को सहयोगी पार्टियों के साथ लड़ेगी. आपको बता दें कि तेजस्वी यादव मानसून सत्र के दौरान विधानसभा में कुछ ही दिन मौजूद रहे थे. वहीं इस बात को जेडीयू और भाजपा ने मुद्दा बना लिया है. जेडीयू के प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा है कि, तेजस्वी यादव एक महत्वाकांक्षी राजनेता है और वो पार्टी के चीफ बनना चाहते हैं. 

कर्नाटक कैबिनेट का विस्तार कल, अमित शाह से मिलने पहुंचे सीएम येदियुरप्पा

राजद ने किया MLA अनंत सिंह का बचाव, कहा- उनके घर से हथियार मिले, लेकिन वो आतंकी नहीं...

भगोड़े इस्लामिक धर्मगुरु जाकिर नाइक पर मलेशिया सरकार ने कसा शिकंजा, धार्मिक उन्माद भड़काने का आरोप