आतंकियों से मुक्त हुआ दमिश्क, लेकिन हो चुका खंडहर

दमिश्क: सीरियाई सेना ने दमिश्क शहर को आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट ऑफ़ इराक एंड सीरिया (ISIS) से पूरी तरह मुक्त करवा लिया है, हालांकि इसके लिए सीरियाई सेना को सात वर्षों तक आतंकियों से कड़ा संघर्ष करना पड़ा, जिसमे कई जवान भी शहीद हुए और हज़ारों की संख्या में निर्दोष लोग भी आतंकियों की गोली का निशाना बने.

आतंकियों के कब्जे से छूटने के बाद दमिश्क की जो बदहाल सूरत सामने आई है वह किसी को भी रुला देने के लिए काफी है, 7 वर्षों की लड़ाई के बाद दमिश्क पूरी तरह से खंडहर हो चुका है. चारों तरफ बस सन्नाटा और उजड़े हुए घरोंदे हैं, जो किसी शहर में सीरिया के खूबसूरत शहरों में से एक और सीरिया की राजधानी हुआ करता था, वो अब मलबे के ढेर में तब्दील हो चुका है, जिनमे लाशें दबी हुई है.

कब्ज़ा करने के बाद सीरियाई सरकार ने बयान जारी करते हुए कहा है कि हमने इस शहर को आतंक से मुक्त करा लिया है, अब इसे फिर से बसाया जाएगा. आपको बता दें कि दमिश्‍क पर जीत राष्‍ट्रपति बशर अल असद के लिए कई मायनों में बड़ी है, दमिश्‍क पर कब्‍जे की खबर उस वक्‍त आई है जब कुछ समय पहले ही असद ने पुतिन से सोची में मुलाकात की थी, माना जा रहा है कि यहां पर असद ने भी अपनी रणनीति में बदलाव किया है. 

मलेशिया के पूर्व पीएम नजीब, जांच के घेरे में

रद्द हो सकती है, किम-ट्रम्प की मुलाकात

फुटबॉल वर्ल्डकप में मोड्रिक के हाथों में क्रोएशिया टीम

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -