विधवाओं के जीवन में रंग घोलने की जरूर

नई दिल्ली : केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने कहा है कि किसी विधवा का जीवन नर्क से कम नहीं होता है लेकिन यदि उनके जीवन में रंग घोल दिया जाये तो उनका शेष जीवन खुशमय हो सकता है। श्रीमती गांधी ने यह बात यहां एक समारोह में कही।

वे सुलभ इंटरनेशनल के संस्थापक बिन्देश्वरी पाठक द्वारा लिखित दो पुस्तकों के विमोचन समारोह मंे शामिल होने आई थी। उन्होंने कहा कि वे भी वैधव्य जीवन को जी रही है, इसलिये विधवा जीवन की परेशानी को अच्छी तरह से समझती है। मेनका ने कहा कि विधवाओं को सम्मान की जरूरत है।

उन्होंने लोगों से यह आह्वान किया कि वे विधवाओं को सम्मान दें। मंत्री मेनका गांधी ने बताया कि सुलभ इंटरनेशनल के संस्थापक बिन्देश्वरी पाठक ने विधवाओं के उत्थान हेतु कई महत्वपूर्ण कार्य किया है, उनका यह योगदान प्रशंसनीय है। उन्होंने यह जानकारी दी है कि केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा वृंदावन में विधवाओं के लिये भवन का निर्माण कराया जा रहा है। इसमें बने कमरों में विधवाओं को रहने की सुविधा दी जायेगी।

मेनका गांधी और एनसीडब्‍ल्‍यू चीफ आमने-सामने, सलमान है वजह

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -