स्लो पाइजन है चीनी, वहीं आपके लिए अमृत है गुड़

आपको पता है चीनी को स्लो पाइजन और सफेद ज़हर कहा जाता है. इसके ज्यादा सेवन से आपको कई तरह की परेशानी हो सकती है. वहीं गुड़ स्वास्थ्य के लिए अमृत माना जाता है. ऐसा इसलिए क्योंकि गुड़ खाने के बाद वह शरीर में क्षार पैदा करता है जो हमारे पाचन को अच्छा बनाता है. जबकि चीनी अम्ल (Acid) पैदा करती है जो शरीर के लिए हानिकारक है. इसलिए कई लोग चीनी की जगह गुड़ का इस्तेमाल करते हैं. 

जानकारी के लिए बता दें, गुड़ को पचाने में शरीर को यदि 100 केलोरी उर्जा लगती है तो चीनी को पचाने में 500 केलोरी खर्च होती है. गुड़ में कैल्शियम के साथ-साथ फोस्फोरस भी होता है जो शरीर के लिए बहुत अच्छा माना जाता है और हड्डियों को बनाने में सहायक होता है. इसलिए हम बताने जा रहे हैं चीनी के नुकसान जिसके बाद आप भी इसे खाना नहीं चाहेंगे. 

1. चीनी बनाने की प्रक्रिया में गंधक का सबसे अधिक प्रयोग होता है. गंधक माने पटाखों का मसाला

2.गंधक अत्यंत कठोर धातु है जो शरीर मेँ चला तो जाता है परंतु बाहर नहीँ निकलता.

3.चीनी कॉलेस्ट्रॉल बढ़ाती है जिसके कारण हृदयघात या हार्ट अटैक आता है.

4.चीनी शरीर के वजन को अनियन्त्रित कर देती है जिसके कारण मोटापा होता है.

5.चीनी रक्तचाप या ब्लड प्रैशर को बढ़ाती है.

6.चीनी ब्रेन अटैक का एक प्रमुख कारण है.

7.चीनी की मिठास को आधुनिक चिकित्सा मेँ सूक्रोज़ कहते हैँ जो इंसान और जानवर दोनो पचा नहीँ पाते.

8.चीनी बनाने की प्रक्रिया मेँ तेइस हानिकारक रसायनोँ का प्रयोग किया जाता है.

9.चीनी डाइबिटीज़ का एक प्रमुख कारण है.

10.चीनी पेट की जलन का एक प्रमुख कारण है.

 

पिम्पल, हेयर्स और स्किन के लिए बहुत फायदेमंद हैं अमरुद के पत्ते

फिर बिगड़ी सिंगर सोनू निगम की तबियत, नेपाल के अस्पताल में भर्ती

तरबूज़ के साथ उसके बीज कभी करें सेवन, होंगे ये फायदे

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -