एक्सपायर्ड टैबलेट्स और गोलियों से बना दी मां दुर्गा की प्रतिमा, देखने के लिए उमड़े लोग

Oct 24 2020 04:47 PM
एक्सपायर्ड टैबलेट्स और गोलियों से बना दी मां दुर्गा की प्रतिमा, देखने के लिए उमड़े लोग

गुवाहाटी: असम के धुबरी जिले में 37 वर्षीय एक शख्स ने एक्सपायर्ड हो चुकी विभिन्न रंगों की दवाइयों से मां दुर्गा की प्रतिमा बना दी है. उन्होंने एक्सपायर्ड टैबलेट, कैप्सूल और इंजेक्शन की शीशियों का प्रयोग करके यह मूर्ति बनाई है. धुबरी जिला प्रशासन के कर्मचारी संजीब बसाक पिछले कुछ वर्षों में प्रतिमा को डिजाइन करने के लिए विभिन्न नवीन और पर्यावरण के अनुकूल कामों में लगे हुए हैं.

संजीब ने जानकारी देते हुए बताया कि इस वर्ष कोरोना महामारी के संकटकाल के बीच उन्होंने लॉकडाउन के दौरान लोगों को थोक में दवाइएं खरीदने के लिए मेडिकल स्टोर्स के बाहर लाइन में खड़े देखा था. उसी दौरान उन्हें ये ख्याल आया कि वो दवाओं से मां दुर्गा की प्रतिमा बना सकते हैं. महामारी को चिह्नित करने के लिए उन्होंने यह प्रयास किया. जिसे देखने के लिए भारी संख्या में लोग आ रहे हैं । 

उन्होंने एक्सपायर्ड दवाइयों के माध्यम से अपने विचारों को आकार देने के लिए तक़रीबन पांच महीने विभिन्न रंगों की 40,000 स्ट्रिप्स, कैप्सूल और इंजेक्शन की शीशियां जमा की, जिसके जरिये वह मां दुर्गा की आकृति बनाने में सफल रहे. दवा के स्ट्रिप्स को एक फ्रेम में सही करने और प्रतिमा बनाने के लिए उन्होंने कागज, थर्मोकोल, बोर्ड और कुछ अन्य चीजों का भी इस्तेमाल किया है.

सरकार ने सैन्य दुकानों पर आयातित सामानों का लगाया प्रतिबंध

एमपीसी परियोजनाओं मुद्रास्फीति Q2 के लिए 6.8 पीसी पर आया

नेपाल में टीवी प्रसारण प्रणालियों में स्वच्छ नीति फीड