भूख से दम तोड़ने वाली बच्ची के परिवार को छोड़ना पडा गाँव

झारखंड के सिमडेगा जिले में जलडेगा प्रखंड स्थित कारीमाटी गांव में भूख से दम तोड़ने वाली 11 साल की संतोषी कुमारी की मां कोयली देवी और उनके परिवार के आंसू अभी सूखे भी नहीं कि उनके सिर एक और मुसीबत आन पड़ी. शुक्रवार शाम को कुछ लोगों ने संतोषी कुमारी के घर में घुस कर उसके परिवार को धमकी दी, हंगामा किया और गांव से निकल जाने को कहा. इस धमकी के बाद कोयली देवी और उनके परिवार ने डर के साए में किसी तरह रात बिताई और शनिवार सुबह पूरे परिवार ने गांव छोड़ दिया. उन्होंने पड़ोस के गांव पतिअंबा में संतोष साहू के घर में शरण ली.

घटना की सूचना मिलने के बाद प्रशासनिक स्तर पर हड़कंप मच गया. उपायुक्त ने फौरन जलडेगा बीडीओ और थाना प्रभारी को कोयली देवी के परिवार को वापस उसके घर लाने का निर्देश दिया. पुलिस और प्रशासन की टीम फ़ौरन पतिअंबा गाँव पहुंची और पूरी सुरक्षा में कोयली देवी और उनके परिवार को वापस कारीमाटी स्थित उनके घर पहुंचाया.

गौरतलब है कि आधार नंबर से लिंक नहीं होने के कारण कोयली देवी के परिवार का राशन कार्ड रद्द हो गया था. जिससे अनाज ना मिलने के कारण उनकी 11 साल की बेटी संतोषी कुमारी की भूख से कुछ दिन पहले मौत हो गई थी. इस घटना से पूरा देश हिल गया था.

दिवाली पर दिल्ली में निकला हजारों मीट्रिक टन कूड़ा

यादव गुट की राष्ट्रीय कार्यकारिणी घोषित

CM योगी आदित्यनाथ आज बुंदेलखंड के दौरे पर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -