असम में ट्रांसजेंडर्स के लिए स्पेशल टीकाकरण शुरू, 40 लोगों को मिला पहला डोज़

गुवाहाटी: देश में चल रही कोरोना वैक्सीनेशन ड्राइव के बीच असम सरकार ने सराहनीय पहल शुरू की है. राज्य के स्वास्थ्य विभाग द्वारा चलाए गए स्पेशन वैक्सीनेशन प्रोग्राम में शुक्रवार को गुवाहटी में 40 ट्रांसजेंडर समुदाय के सदस्यों को टीका लगाया गया. तृतीय निवास (थर्ड जेंडर के शेल्टर होम) के सदस्यों का टीकाकरण कराया गया. 

असम के ट्रांसजेंडर वेलफेयर बोर्ड की एसोसिएट वाइस चेयरमैन स्वाति बिदान बरुआ ने कहा कि हमारे समुदाय के सदस्य सड़कों पर भीख मांगते हैं, ऐसे में उनमें संक्रमण की चपेट में आने का खतरा भी अधिक है. उन्होंने कहा कि हमारे लिए कोई अलग से कोविड सेंटर नहीं है, ऐसे में टीकाकरण ही संक्रमण को हराने का एकमात्र उपाय है. मैंने स्वास्थ्य विभाग से संपर्क किया, जिसके बाद उन्होंने कहा कि उन्हें हमारी सहायता करके उन्हें खुशी होगी . 13 मई को ही हमने स्वास्थ्य सेवाओं के निदेशालय से संपर्क किया था और 14 मई को ही टीकाकरण करा दिया गया.

आश्रय गृह में 125 ट्रांसजेंडर रहते हैं और उनमें से 40 को पहले दिन वैक्सीन लगाई गई. दस्तावेज और पहचान प्रमाण कई लोगों के लिए परेशानी थी, जिसके सम्बन्ध में उन्होंने कहा कि जल्द ही इसे हल कर लिया जाएगा. दूसरी ड्राइव अगले सप्ताह चलाई जाएगी, जहां अधिक से अधिक लोगों के टीकाकरण की उम्मीद है. 2011 की जनगणना के अनुसार, असम में 11374 ट्रांसजेंडर रहते हैं.

आरबीआई के पुनर्गठन फ्रेमवर्क 1.0 के तहत लाभ वाले एमएसएमई को मिल सकती है राहत

अप्रैल में 30 अरब डॉलर बढ़ा भारत, आयात में भी देखी गई वृद्धि

लाल और हरे निशान के बीच झूला शेयर बाजार, सेंसेक्स में हुई बढ़त, निफ्टी में आई गिरावट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -