होली के बाद से चुनाव अभियान शुरू करेगा यूपी का महागठबंधन, ये है प्लान...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (सपा), बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) की संयुक्त चुनाव रैलियां चरणबद्ध ढंग से होली के बाद आरम्भ हो जाएंगी। पश्चिमी उत्तर प्रदेश से इन संयुक्त रैलियों का आगाज़ नवरात्र के पावन दिनों में होगी। पहली संयुक्त रैली सात अप्रैल को देवबंद में आयोजित की जाएगी, इस रैली को बसपा सुप्रीमो मायावती, सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव एवं राष्ट्रीय लोक दल के प्रमुख अजीत सिंह द्वार संबोधित करने वाले हैं।

रामपुर सीट से चुनाव नहीं लड़ेगी सपा, आज़म खान ने बताई ये वजह

इस तरह की रैलियां पूरे प्रदेश में होंगी, जिसमें गठबंधन के नेता संयुक्त रूप से स्टेज साझा करेंगे। यह जानकारी सपा के राष्ट्रीय सचिव राजेन्द्र चौधरी ने गुरुवार को मीडिया में दी है। चौधरी ने कहा है कि सपा-बसपा-रालोद के गठबंधन से सियासी में एक नई लहर उत्पन्न हुई है। अखिलश यादव का मानना है कि एक विशेष विचारधारा पर आधारित हमारे गठबंधन के प्रति जनता में बढ़ते रूझान को देखकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) खेमे में घबराहट और बौखलाहट है।

आज दिल्ली में बहुजन हुंकार रैली निकालेंगे चंद्रशेखर, कांशीराम की बहन हो सकती है शामिल

उन्होंने कहा है कि जनता हालांकि अब भाजपा के बहकावे में नहीं आने वाली है। जनता को भाजपा का पूरा चरित्र मालूम हो गया है इसलिए अब 2019 के लोक सभा चुनाव में नया प्रधानमंत्री और नई सरकार चुनने के दृढ़ संकल्प से वोटर को कोई भी ताकत डिगा नहीं सकती है। अखिलेश ने कहा है कि इस बार के चुनाव में देश को नया प्रधानमंत्री मिला है।

खबरें और भी:-

मध्य प्रदेश में कांग्रेस-जयस में खटास, चुनाव में भाजपा को मिल सकता है लाभ

चारा घोटाला: जमानत के लिए छटपटा रहे लालू, आज सुप्रीम कोर्ट करेगी सुनवाई

न्यूजीलैंड की मस्जिद में हुई गोलीबारी से कई लोगों की मौत, बाल-बाल बची बांग्लादेश क्रिकेट टीम

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -