जनता तो सजा भुगत चुकी है मोदी जी

जनता तो सजा भुगत चुकी है मोदी जी

मुम्बई : केंद्र में सत्तारूढ़ गठबंधन में होने के बाद भी शिवसेना अपने मुखपत्र सामना के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरने में लगी है। शिवसेना ने सामना में लिखा है कि जिस तरह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भावुक हो रहे हैं और देश से भ्रष्टाचार समाप्त करने के लिए 50 दिन मांगने की अपील कर रहे हैं मगर यह सब करने की जरूरत प्रधानमंत्री को नहीं है, क्योंकि हालात ये हैं कि देश की सवा सौ करोड़ जनता उनके निर्णय की सजा भुगत रही है।

यह पर्याप्त नहीं है। पीएम मोदी ने भावुकता भरे अंदाज़ में अपनी बात कही और कहा कि यदि जनता को भ्रष्टाचार के मामले में कार्य होते नज़र नहीं आया तो वे किसी भी चैराहे पर सजा पाने के लिए तैयार हैं मगर जनता तो पहले से ही परेशान है वह पीएम मोदी जी से आखिर क्या कहेगी।

जनता को जो सजा मिल रही है वह काफी है। गौरतलब है कि शिवसेना पहले भी अपने मुखपत्र सामना में केंद्र सरकार के खिलाफ अपनी बात लिख चुकी है।