शिवपाल यादव ने अखिलेश को दी चौकन्ना रहने की सलाह, कहा मायावती से रहना सावधान

शिवपाल यादव ने अखिलेश को दी चौकन्ना रहने की सलाह, कहा मायावती से रहना सावधान

लखनऊ : आगामी लोकसभा चुनाव के लिए यूपी की 80 लोकसभा सीटों के लिए समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने शनिवार को गठबंधन का आधिकारिक ऐलान कर दिया है. इसके बाद यूपी के राजनीतिक गलियारों में सियासी गर्मी बढ़ गई है. इसके बाद मुलायम सिंह यादव के भाई शिवपाल यादव ने अखिलेश यादव को चेताया है.

काशी विश्वनाथ के द्वार पहुंचे हार्दिक

उन्होंने अखिलेश को चेताते हुए कहा है कि मायावती पर यकीन करना घातक हो सकता है. शिवपाल ने कहा है कि सपा के साथ गठबंधन करने के बाद वे ओबीसी, दलितों और मुसलमानों का मत प्राप्त करेंगी और चुनाव के बाद मायावती भाजपा से भी हाथ मिला सकती हैं. दरअसल, सपा और बसपा के बीच गठबंधन के बाद मायावती ने शिवपाल यादव पर हमला बोला था.

लोकसभा चुनाव: रालोसपा का दावा, गोपालगंज सीट से पार्टी ही उतारेगी प्रत्याशी

उल्लेखनीय है कि मायावती ने कहा था कि सपा और बसपा के मध्य गठबंधन होने के बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने शिवपाल पर आर्थिक निवेश करने की योजना समाप्त कर दी है. भाजपा की तरफ से शिवपाल यादव पर खूब पैसा खर्च किया था, किन्तु अब यह पैसा बर्बाद जाएगा. मायावती ने कहा है कि सपा-बसपा यूपी में भाजपा को आने से रोकने में पूरी तरह सक्षम है. साथ ही मायावती ने ये भी कहा था कि लोकसभा चुनाव के लिए सपा बसपा पूरी तरह तैयार हैं.

खबरें और भी:-

 

अमीर सवर्ण कर रहे हैं 10 प्रतिशत आरक्षण का विरोध- हुकुमदेव नारायण यादव

महाधिवेशन समाप्त होने के बाद एक्शन मोड में आई भाजपा, शुरू हुआ बैठकों का दौर

लोकसभा चुनाव में कांग्रेस व भाजपा की सीधी लड़ाई : गुलाम नबी आजाद