अब आतंकियों को जिन्दा पकड़ेगी सेना, ये है वजह

श्रीनगर: भारत सरकार द्वारा आतंकवाद को ख़त्म करने के लिए अभियान चलाया जा रहा है, जम्मू कश्मीर में 70 से ज्यादा आतंकियों को मार गिराने के बाद आप भारतीय सेना ने उन्हें जिन्दा पकड़ने का फैसला लिया है.  बताया जा रहा है कि आतंकियों को जिन्दा पकड़ने के पीछे सेना का उद्देश्य नये शामिल हुए आतंकियों पर ध्यान केंद्रित करना और उन्हें अपने परिवारों के पास लौटने के लिए प्रेरित करना है.

 पुलिस अधिकारी ने बताया है कि उनकी लड़ाई बुरे लोगों से ज्यादा बुराई के खिलाफ है, इसलिए हमारा उद्देश्य उन्हें जिन्दा पकड़ना और उनकी शिकायतों को समझना है. उन्होंने कहा कि यह जानना बेहद जरुरी है कि आखिर क्यों 15 -16 साल का एक किशोर इस सीमा तक पहुँच जाता है कि वह मुठभेड़ में मरने के लिए भी तैयार हो जाता है, उसके पीछे उसका उद्देश्य क्या है.

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘हमें हमारे जमीनी गुप्तचर प्रणाली से संकेत मिले हैं कि कई वापस लौटना चाहते हैं. कुछ अभिभावकों ने हमसे सम्पर्क किया और हमें उनकी सामान्य जीवन और शिक्षा फिर से शुरू करने में मदद करने में कोई हिचक नहीं है.’कई अधिकारियों जिसमें गुप्तचर एजेंसियों के अधिकारी भी शामिल हैं, उनका मानना है कि आतंकवाद निरोधक अभियान रूकने से अभिभावकों को इसके लिए मनाने में मदद मिलेगी कि वे अपने बच्चों को वापस लाकर पढ़ाई में लगायें.

पाक ने किया सीमा से सटे इलाक़े ख़ाली करने का एलान

जम्मू-कश्मीर में रातभर से बम बरसा रहा है पाक

जम्मू कश्मीर में अमन और हक़ की आवाज उठाती महबूबा मुफ़्ती का आज जन्मदिन

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -