4 बच्चों के पिता के लिए सरोज खान ने कबूला था इस्लाम, मिला बड़ा धोखा

2000 से भी ज्यादा गानों को कोरियोग्राफर कर चुकीं सरोज खान अब इस दुनिया में नहीं है. उनका निधन आज ही के दिन हुआ था. जी हाँ 3 जुलाई को सरोज को दिल का दौरा पड़ा और उनका निधन हो गया। आप सभी को बता दें कि सरोज खान ने बॉलीवुड की हर बड़ी अभिनेत्री को अपने डांस मूव्स पर नचवाया है। इस लिस्ट में माधुरी दीक्षित, श्रीदेवी, ऐश्वर्या जैसी दिग्गज अभिनेत्रियां शामिल है जिन्होंने सरोज को अपना गुरु माना। अपने 40 साल के करियर में सरोज खान ने तीन बार नेशनल अवॉर्ड भी जीता और प्रोफेशनल लाइफ में सरोज भले ही कामयाबी की सीढ़ियां चढ़ती गईं लेकिन उनकी निजी जिंदगी काफी तकलीफों से भरी हुई रही।

जी दरअसल मात्र 13 साल की उम्र में सरोज खान की शादी हो गई लेकिन वह सफल ना हो सकी. सरोज खान का असली नाम निर्मला नागपाल था और सरोज के पिता का नाम किशनचंद सद्धू सिंह और मां का नाम नोनी सद्धू सिंह था। विभाजन के बाद सरोज खान का परिवार पाकिस्तान से भारत आ गया और सरोज ने महज 3 साल की उम्र में बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था। वहीं उसके बाद स्कूल जाने की उम्र में सरोज ने सोहनलाल से शादी कर ली थी और उस वक्त वे नहीं जानती थीं कि सोहनलाल पहले से शादीशुदा और 4 बच्चों के पिता हैं। उस समय दोनों की उम्र में 30 साल का फासला था और शादी के वक्त सरोज की उम्र 13 साल थी। एक बार सरोज खान ने एक इंटरव्यू में बताया था कि 'मैं उन दिनों स्कूल में पढ़ती थी तभी एक दिन मेरे डांस मास्टर सोहनलाल ने गले में काला धागा बांध दिया था और मेरे शादी हो गई थी।' साल 1974 में आई 'गीता मेरा नाम' पहली फिल्म थी, जिसमें सरोज खान ने कोरियोग्राफ किया था।

उसके बाद 'मिस्टर इंडिया' में हवा-हवाई (1987) और 1988 में आई 'तेजाब' में एक दो तीन डांस नंबर ने सरोज खान की किसम्त बदल दी। सफल होने के बाद सरोज खान ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और अपने फिल्मी करियर में उन्होंने एक से बढ़कर एक डांस नंबर दिए। सरोज खान ने जब पहले बेटे को जन्म दिया तब उन्हें अपने पति की पहली शादी के बारे में पता चला। वहीं साल 1965 में उनके दूसरे बच्चे का जन्म हुआ, जो 8 महीनों बाद ही गुजर गया। वहीं जब सोहनलाल ने सरोज के दोनों बच्चों को अपना नाम देने से इनकार किया तब दोनों की राहें अलग हो गईं। जी हाँ और दोनों की शादी महज 4 साल ही चली। वहीं इस्लाम कबूलने को लेकर एक बार सरोज खान ने कहा था कि 'मैंने अपनी मर्जी से इस्लाम अपनाया था। मुझे इस्लाम धर्म से प्रेरणा मिलती है। मुझपर कोई दवाब नहीं था।'

उपवास रखते-रखते बेहोश हो गई ये मशहूर अदाकारा, अस्पताल में भर्ती

सरबजीत की बहन की आत्मा की शांति के लिए रणदीप हुड्डा ने रखी प्रेयर मीट

मनोरंजन जगत को लगा बड़ा झटका, इस मशहूर अभिनेता का हुआ निधन

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -