आरक्षण में बदलाव की बात पर नेताओं के फूटे विरोधी बोल

By Lav Gadkari
Sep 22 2015 02:00 PM
आरक्षण में बदलाव की बात पर नेताओं के फूटे विरोधी बोल

लखनऊ : राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत द्वारा आरक्षण प्रावधान की समीक्षा किए जाने के बयान की निंदा करते हुए बसपा प्रमुख मायावती ने कहा कि आरक्षण की नीति बसपा नहीं बदलने देगी । सरकार ने आरक्षण के प्रावधान में बदलाव किया तो बसपा देशभर में प्रदर्शन करेगी। उन्होंने कहा कि आरएसएस के सरसंघचालक मोहन भागवत के बयान से दलितों में रोष है। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की नीति काफी कट्टर है। जिससे अन्य वर्गों को नुकसान उठाना पड़ता है। यही नहीं इस तरह के बयान का खंडन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नहीं किया है। यदि सरकार इस पर फिर से कार्य कर इसकी समीक्षा करती है तो यह ठीक नहीं होगा। ऐसे में बसपा विरोध करेगी।

उल्लेखनीय है कि संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा था कि आरक्षण प्रावधान की समीक्षा करने की जरूरत है। कई गरीब और पिछड़े लोगों तक इस व्यवस्था का लाभ नहीं पहुंच पाता है। इसका लाभ लेने की समय सीमा तय की जाना जरूरी है। इस पर फिर से चर्चा कर ऐसा प्रयास करना चाहिए कि इससे आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को भी लाभ मिले।