हथिनी की हत्या पर बोले रतन टाटा, कहा- इंसाफ जरूर होना चाहिए

हथिनी की हत्या पर बोले रतन टाटा, कहा- इंसाफ जरूर होना चाहिए

नई दिल्ली: केरल के मलप्पुरम जिले में हुई हथिनी की हत्या पर देशभर के लोगों में आक्रोश है. फिल्म अभिनेता, नेता, समाजिक कार्यकर्ताओं के साथ साथ व्यापार जगत के लोग भी गुस्सा प्रकट कर रहे हैं. टाटा संस के चेयरमैन रतन टाटा ने भी हथिनी की हत्या पर नाराजगी जताई है और शोक जाहिर किया है.

रतन टाटा ने टि्वटर पर लिखा है कि, 'कुछ लोगों ने गर्भवती हथिनी को अनानास में पटाखे भर कर खिला दिया जिससे उसकी मौत हो गई. इस पर मैं बहुत हैरान और स्तब्ध हूं. उन्होंने आगे लिखा कि, 'बेगुनाह जानवरों के साथ ऐसे आपराधिक काम मनुष्यों की हत्या से अलग नहीं है. इंसाफ अवश्य होना चाहिए.' दरअसल मलप्पुरम में कुछ लोगों ने गर्भवती हथिनी को विस्फोटक से भरा अनानास खिला दिया था, जिसके बाद उसके मुंह में धमाका हो जाने से उसकी मौत हो गई. स्थानीय वन्य जीव विभाग हथिनी की हत्या के मामले की छानबीन कर रहा है. वन विभाग ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला भी दर्ज कर लिया है. 27 मई को हथिनी की मौत हुई थी.

वहीं गर्भवती हथिनी के हत्यारों की गिरफ़्तारी के लिए कोशिशें तेज कर दी गई हैं. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर भी पूरे प्रकरण पर संज्ञान ले चुके हैं. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने गुरुवार को कहा कि मोदी सरकार ने केरल के मल्लपुरम में एक हाथी की हत्या के मामले पर गंभीरता दिखाई है. हम सही तरीके से जांच करने और अपराधियों को गिरफ्तार करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे. हाथियों को पटाखा खिलाना और मारना हमारी संस्कृति नहीं है.

लैरी वॉल्श का प्रोस्टेट कैंसर से हुआ निधन, डेनिस विन्फ्रे ने ​दिया भावुक बयान

प्रदर्शनकारियों के समर्थन में उतरीं ट्रम्प की बेटी टिफनी, सोशल मीडिया पर कह दी बड़ी बात

दुनियाभर में बढ़ी कोरोना की मार तो इन जगह के बिगड़े हाल