बहनों के साथ मिथिला से विदा हुई सीता, अयोध्या में हुआ स्वागत

टीवी का जाना माना सीरियल रामायण हाल ही में अपने सबसे खूबसूरत क्षणों से गुजरा. भगवान राम और सीता हमेशा के लिए एक हो गए. श्रीराम और सीता के विवाह के बाद चारों विवाहित जोड़ी भगवान का आशीर्वाद लेने जाती है तो वहीं बेटियों की विदाई के बारे में सोचकर देवी सीता की मां दुखी हो रही हैं . वहीं राजा जनक, राजा दशरथ से कहते हैं कि कुछ दिन और मिथिला में रुक जाइये और ये बात राजा दशरथ स्वीकारते हैं. वे कहते हैं जब तक वो उन्हें अनुमति नहीं देते वे मिथिला से अयोध्या की ओर प्रस्थान नही करेंगे.तो वहीं अयोध्या में रानी कैकई और कौशल्या अपने बेटों और बहुओं की प्रतीक्षा कर रहीं होती हैं. महर्षि, राजा जनक को समझाते हैं कि बेटियों को विदा करने का समय आ गया है और उनकी ये बात राजा जनक स्वीकारते हैं और देवी सीता और उनकी बहनों को विदा करने की तैयारी करते हैं. 

आपकी जानकारी के लिए बता दें की ऐसे में मां अपनी बेटियों को विदा होने से पहले पतिव्रता होने की शिक्षा देती हैं.आखिरकार मिथिला की राजकुमारियों के विदाई की घड़ी आ ही गई, दुल्हनों को डोली में बिठाकर राजा जनक ने अपनी बेटियों को विदा किया .वहीं देवी सीता, उर्मिला, सुतकीर्ति, मांडवी ने आंखों में आंसू लेकर मिथिला से विदा ली. चारों विवाहित जोड़ियां अयोध्या पधारती हैं जहां उनका भव्य स्वागत होता है, तीनों महारानियां अपने बेटों और बहुओं की आरती उतारती हैं और सभी सूर्य भगवान का आशीर्वाद लेते हैं.इसके बाद विवाह के बाद की सभी रस्में की जाती हैं. सीता-राम को एक दूसरे को दूध भात खिलाना है फिर एक एक कर बाकी जोड़ियों की भी रस्मे होती हैं. इसके बाद होती है कंगन ढूंढने की रस्म जिसमें देवी सीता कंगन ढूंढ लेती हैं.

सभी रस्में खत्म होने के बाद श्रीराम और सीता को एक दूसरे के साथ समय मिलता है और श्रीराम सीता को ये वचन देते हैं कि उनके जीवन मे कभी कोई दूसरी स्त्री नहीं आएगी.राजा दशरथ महारानी कौशल्या से कहते हैं कि तुम्हें अपनी चारों बहुओं को अपने प्यार के आंचल से बांधे रखना होगा.वहीं  महारानी कैकई के भाई अयोध्या से विदा लेते हैं. इस दौरान रानी कैकई भरत और शत्रुघ्न से उनके भाई संग जाने को कहती हैं और जाने से पहले भरत और शत्रुघ्न, श्रीराम और देवी सीता से आज्ञा लेते हैं और प्रस्थान करते हैं.अगले भाग में बड़ा ट्विस्ट आने वाला है. आने वाले एपिसोड में दिखाया जाएगा कि राजा दशरथ की ओर से अपने बेटे श्रीराम का राज्याभिषेक करने की घोषणा होगी. वहीं इसी बीच मंथरा रानी कैकई को भड़काती हैं कि श्रीराम के बदले भरत का राज्याभिषेक होना चाहिए.

शहनाज़ गिल के इंस्टाग्राम पर है फेक फॉलोअर्स, इस शख्स ने खोली पोल

क्राइम पेट्रोल' फेम अभिनेता शफीक अंसारी की कैंसर ने ली जान

अर्चना ने करिश्मा कपूर और दिव्या भारती के साथ शेयर की यह पुरानी तस्वीर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -