जनता का विश्वास बनाए रखने के लिए सीएम अमरिंदर सिंह ने अपनाया केजरीवाल फार्मूला

Feb 15 2020 01:10 PM
जनता का विश्वास बनाए रखने के लिए सीएम अमरिंदर सिंह ने अपनाया केजरीवाल फार्मूला

आम आदमी पार्टी दिल्ली की सत्ता में प्रंचड बहुमत से काबिज हुई है. आप की इस सफलता के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी अब जनता की चार प्रमुख जरूरतों- शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली और पानी की पर ध्यान केंद्रित करने का फैसला किया है. कैप्टन ने शुक्रवार को सभी डिप्टी कमिश्नरों (डीसी) को चंडीगढ़ तलब किया और उन्हें लोगों के मानक जीवन के लिए शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली और पानी की समस्याओं को प्राथमिकता से हल करने की हिदायत दी 

उमर-महबूबा के बाद अब पूर्व IAS शाह फैसल पर भी लगा PSA, श्रीनगर में हैं नज़रबंद

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि यह वही चार प्राथमिकताएं हैं, जिन पर काम कर आप सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल ने चुनाव के दौरान जनता को अपनी सरकार की उपलब्धियों के तौर पर गिनाया और विधानसभा चुनाव में 70 में से 62 सीटों पर जीत दर्ज की. शुक्रवार को पंजाब भवन में डिप्टी कमिश्नरों के साथ मीटिंग की अध्यक्षता करते हुए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इन चारों प्रमुख सेक्टरों से संबंधित विकास और कल्याणकारी स्कीमों की व्यापक निगरानी करने के आदेश दिए ताकि ऐसे कार्यक्रमों पर अमल यकीनी बनाया जा सके. 

कार्तिक-सारा की फिल्म रिलीज के बाद हुई लीक, कलेक्शन पर पड़ सकता है असर

जनता का विश्वास बनाए रखने के लिए सीएम ने डिप्टी कमिश्नरों को आदेश दिया कि वे सरकार के निर्धारित एजेंडे पर चलते हुए लोगों की इच्छाओं की पूर्ति के लिए विकास और कल्याण प्रोजेक्टों में तेजी लाने के लिए कमर कस लें. मुख्यमंत्री ने यह हिदायत भी दी कि लोकतंत्र में चुने हुए प्रतिनिधियों को सम्मान देना लाजिमी है और चुने हुए प्रतिनिधियों को बनता सम्मान दिया जाए. इसके साथ ही, नागरिक केंद्रित सेवाओं के लिए मुख्यमंत्री ने डिप्टी कमिश्नरों को सेवा केंद्रों के कामकाज पर करीब से नजर रखने के आदेश दिए ताकि विभिन्न नागरिक सेवाओं संबंधी लंबित आवेदनों का निपटारा किया जा सके.

बिहार में अपराधियों के हौसले बुलंद, वकील को सरेआम गोली मारकर हुए फरार

केजरीवाल के शपथग्रहण को लेकर विवाद शुरू, कपिल मिश्रा बोले-टीचर्स को जबरदस्ती लाना गलत..

ऋचा चड्ढा ने बताया शादी खबरों को झूठा, कहा-जब होगी हम खुद बता देंगे