महासचिव के रूप में मिसेज वाड्रा ने ली पहली बैठक, जानिए कौन हैं ये दो शख्स जिनसे मिली प्रियंका ?

महासचिव के रूप में मिसेज वाड्रा ने ली पहली बैठक, जानिए कौन हैं ये दो शख्स जिनसे मिली प्रियंका ?

नई दिल्ली: 2019 के महासंग्राम यानी लोकसभा चुनाव में जीत हासिल करने के लिए सियासी बिसात बिछ चुकी है। केंद्र की सत्ता के लिए बेहद महत्वपूर्ण माने जाने वाले सूबे उत्तर प्रदेश में सियासी तौर पर सबसे अधिक हलचल देखने को मिल रही है। सपा-बसपा और रालोसपा के मध्य महागठबंधन बनने के बाद अब भाजपा और कांग्रेस अपनी चुनावी रणनीति बनाने में लग गई हैं।

कांग्रेस का विवादित ऐलान, अगर सत्ता में आए तो ख़त्म कर देंगे तीन तलाक़ कानून

कांग्रेस ने यूपी में प्रियंका गांधी को अहम जिम्मेदारी सौंपते हुए चुनावी रण में उतारा है। बुधवार को प्रियंका गांधी ने दिल्ली स्थित कांग्रेस कार्यालय पहुंचकर महासचिव पद पर कार्यभार ग्रहण किया। कांग्रेस कार्यालय में बैठक के दौरान प्रियंका गांधी की जो तस्वीरें मीडिया में आईं, उनमें दो शख्स उनके सामने बैठे हुए दिखाई दे रहे हैं। आइए जानते हैं कि कौन हैं ये दो व्यक्ति, जिन्होंने प्रियंका से मुलाकात की है। इनमें से एक हैं, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के पूर्व एमएलसी और कभी मायावती के बेहद करीबी रहे अतहर खान के बेटे सुल्तान अहमद खान। सुल्तान अहमद के पिता अतहर खान की गिनती कभी बसपा के दिग्गज नेताओं में होती थी। उन्हें बसपा सरकार के दौरान राज्य मंत्री का दर्जा मिला हुआ था। दिल्ली, उत्तराखंड सहित कई राज्यों के प्रभारी पद पर कार्य कर चुके अतहर खान ने लगभग 32 साल तक बसपा में रहने के बाद मई 2017 में पार्टी से इस्तीफा दे दिया था।

राहुल गाँधी का दावा, तीन महीनों में स्पष्ट हो जाएगा, भाजपा और आरएसएस को हराएगी कांग्रेस

सुल्तान अहमद खान और उनके पिता ने इसी वर्ष 24 जनवरी को कांग्रेस की सदस्यता ली है। प्रियंका गांधी और सुल्तान अहमद खान की मुलाकात की सूचना जैसे ही बसपा नेताओं को मिलीं, तो राज्य में राजनितिक सरगर्मियां तेज हो गईं। मूल रूप से यूपी के अंबेडकर नगर के निवासी सुल्तान अहमद खान बहराइच जिले की माटेरा विधानसभा सीट से चुनाव भी लड़ चुके हैं। इसके अलावा प्रियंका गांधी से हुई मुलाकात में जो दूसरे व्यक्ति नजर आए, वो कांग्रेस पार्टी के ही नेता सलमान अहमद खान थे। बताया जा रहा है कि सलमान अहमद खान ने ही सुल्तान की मुलाकात प्रियंका गांधी से करवाई थी। इस मुलाकात को लेकर उत्तर प्रदेश में राजनितिक तौर पर कई अटकलें लगाई जा रही हैं।

खबरें और भी:-

योगी सरकार ने पेश किया सबसे बड़ा बजट, हर तबके के लिए खोला सरकारी खजाना

ममता ने फिर लिया पुलिस कमिश्नर का पक्ष, कहा मेरे धरने में नहीं थे अफसर

भोपाल में सीबीआई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन, कुत्ते से कर दी जाँच एजेंसी की तुलना