कांग्रेस का विवादित ऐलान, अगर सत्ता में आए तो ख़त्म कर देंगे तीन तलाक़ कानून

कांग्रेस का विवादित ऐलान, अगर सत्ता में आए तो ख़त्म कर देंगे तीन तलाक़ कानून

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी की ओर से तीन तलाक कानून पर एक बड़ा बयान सामने आया है। गुरुवार को दिल्ली के जवाहर लाल नेहरु स्टेडियम में आयोजित किए गए कांग्रेस अल्पसंख्यक मोर्चा सम्मेलन में महिला कांग्रेस अध्यक्ष और लोकसभा सांसद सुष्मिता देव ने तीन तलाक कानून को समाप्त करने की बात कही है। उन्होंने कहा है कि, अगर केंद्र में हम सत्ता में आते हैं, तो हम तीन तलाक कानून को समाप्त कर देंगे। 

राहुल गाँधी का दावा, तीन महीनों में स्पष्ट हो जाएगा, भाजपा और आरएसएस को हराएगी कांग्रेस

जिस समय ये बयान दिया गया, उस समय सम्मेलन में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी उपस्थित थे। सुष्मित देव के इस बयान से स्पष्ट हो गया है कि कांग्रेस पार्टी मुस्लिम महिलाओं को न्याय दिलाने के लिए बनाए गए तीन तलाक कानून के विरुद्ध है। ये बयान चुनावी माहौल में काफी अहम हो सकता है। कांग्रेस अल्पसंख्यक मोर्चा के सम्मेलन में सुष्मिता देव ने कहा है कि, 'हम सत्ता में आते ही तीन तलाक कानून को खत्म कर देंगे।' उन्होंने कहा है कि ये कानून मुस्लिम पुरुषों को जेल में भेजने का षड्यंत्र है। सुष्मिता देव ने कहा है कि, कांग्रेस एक बार में तीन तलाक देने का विरोध करती है, किन्तु इसके खिलाफ बने कानून का भी पार्टी विरोध करती है।

योगी सरकार ने पेश किया सबसे बड़ा बजट, हर तबके के लिए खोला सरकारी खजाना

आपको बता दें कि तीन तलाक कानून बनाने के पीछे केंद्र की मोदी सरकार का बहुत बड़ा हाथ है। माननीय शीर्ष अदालत ने 22 अगस्त, 2017 को तीन तलाक को असंवैधानिक घोषित कर दिया था और अदालत ने ही केंद्र सरकार को इस पर कानून बनाने के लिए निर्देश दिए थे। पिछले साल मानसून सत्र में राज्यसभा में बिल पारित करवाने में असफलता के बाद केंद्र सरकार इस मामले पर अध्यादेश लेकर आई थी। हालांकि अध्यादेश के जरिए बनाया गया कानून की अवधि छह महीने तक ही होती है।

खबरें और भी:-

ममता ने फिर लिया पुलिस कमिश्नर का पक्ष, कहा मेरे धरने में नहीं थे अफसर

भोपाल में सीबीआई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन, कुत्ते से कर दी जाँच एजेंसी की तुलना

डोनाल्ड ट्रम्प का दावा, कहा हो चुका है आतंकी संगठन ISIS का खात्मा