कुर्सी की लड़ाई में कर रहे एक-दूसरे पर शब्द बाण के वार

By Lav Gadkari
Sep 24 2015 04:25 PM
कुर्सी की लड़ाई में कर रहे एक-दूसरे पर शब्द बाण के वार

पटना : भारतीय जनता पार्टी द्वारा बिहार में अपना चुनावी प्रचार अभियान तेजी से प्रारंभ कर दिया गया है। भाजपा अपनी चुनावी रणनीति के साथ बिहार में विकास का एजेंडा लेकर मैदान में उतरी है। इस दौरान भारतीय जनता पार्टी ने पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव को लोगो पर जातिवाद की राजनीति थोपने का आरोप लगाया है। इस मसले पर जेडीयू के नेता और बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार ने पलटवार करते हुए कहा कि भाजपा विकास के एजेंडे से ध्यान हटाना चाहती है। इसलिए ही वह जेडीयू और जनता परिवार गठबंधन के विरूद्ध जातिवाद और जंगल राज का शिगूफा छोड़ रही है।

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को लेकर भी कहा गया कि पार्टी के प्रमुख अमित शाह की क्या हैसियत है। मगर इसी बयान पर पलटवार करते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रकाश जावडे़कर ने कहा कि लालू प्रसाद यादव को उन्होंने अपना नेता माना है तो फिर उन्हें यह बताना होगा कि आखिर उनका महत्व कितना है।

प्रकाश जावडे़कर ने कहा कि नीतिश ने बिहार में जब तक भाजपा के साथ मिलकर आरएसएस के समर्थन से राज्य में शासन किया तब तक नीतिश के लिए भाजपा अच्छी थी। आखिर नीतिश को राज्य का मुख्यमंत्री बनाने में आरएसएस के एक प्रचारक ने ही पहल की थी और उन्हीं की सहायता से वे सीएम बने थे। मगर अब वे भाजपा और आरएसएस के विरूद्ध ही बोल रहे हैं।