असम : जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या में हुआ इजाफा, अब तक 155 की मौत

गोलाघाट : प्रदेश के कई जिलों में जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या बढ़कर अब 155 हो गई है। पुलिस ने अब तक इस मामले में 22 लोगों को गिरफ्तार किया है। सरकारी सूत्रों ने सोमवार को यहां इसकी जानकारी दी। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने इस मुद्दे पर असम सरकार को एक नोटिस भेजकर पूरे मामले की विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। 

जम्मू कश्मीर: कुलगाम मुठभेड़ में मारे गए तीन आतंकियों में से दो पाकिस्तानी नागरिक

विपक्ष के किया सरकार का घेराव 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार आयोग ने केंद्रीय गृह मंत्रालय से तमाम राज्यों के पुलिस महानिदेशकों को अवैध शराब की बिक्री पर निगरानी बढ़ाने का निर्देश देने को कहा है। वही इस बीच, लगातार बढ़ती मौतों के मुद्दे पर विपक्षी कांग्रेस ने भाजपा सरकार की खिंचाई करते हुए उस पर मृतकों के प्रति उदासीन रवैया अपनाने का आरोप लगाते हुए इस घटना की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है। 

अंडमान के एकांत कारावास में जेल की दीवारों पर कविताएं लिखते थे यह महान क्रांतिकारी

अब चला अवैध शराब के खिलाफ अभियान 

प्राप्त जानकारी के अनुसार पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई ने कहा कि असम के इतिहास में पहले कभी इतनी बड़ी घटना नहीं हुई है। इस मामले की जांच सीबीआई से कराई जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार को इस घटना की जिम्मेदारी लेते हुए इस पर विचार-विमर्श के लिए सर्वदलीय बैठक बुलानी चाहिए। वही आबकारी मंत्री ने जिले के अधिकारियों को अवैध शराब के खिलाफ अभियान चलाने का निर्देश दिया है। राज्य सरकार ने देसी शराब में इस्तेमाल होने वाले लाल गुड़ की बिक्री पर पाबंदी लगा दी है। 

575 पद खाली, सहायक मैनेजर करें अप्लाई

अब तक नहीं चल सका हिमपात में दबे सेना के जवानों का पता

Infinix note 5 है कंपनी का सबसे बढ़िया स्मार्टफोन, सेल में कीमत रह गई महज इतनी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -