जम्मू कश्मीर में समय पर चुनाव करवा पाना पीएम मोदी के लिए चुनौती - उमर अब्दुल्ला

जम्मू कश्मीर में समय पर चुनाव करवा पाना पीएम मोदी के लिए चुनौती - उमर अब्दुल्ला

श्रीनगर: नेशनल कांफ्रेंस (एनसी) के नेता और जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने कहा है कि जम्मू कश्मीर में पांच वर्ष के बाद चुनाव करवा पाना कश्मीर के मौजूदा हालात से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निपटने के परीक्षण की तरह होगा. अब्दुल्ला ने टि्वटर पर कहा है कि, ‘‘क्या मोदी सरकार अलगावावादी ताकतों और आतंकवादियों के समक्ष घुटने टेकेगी जो जम्मू कश्मीर में हमेशा से ही चुनावों में बाधा डालने और देरी पहुंचाने का कार्य करते हैं या फिर चुनाव निर्धारित वक़्त पर ही होंगे? यह वक़्त पीएम मोदी के लिए बीते पांच सालों में कश्मीर को संभालने की परख का है.’’ 

अमित शाह का कांग्रेस से सवाल, राम मंदिर और NRC पर अपना रुख स्पष्ट करो

राज्य के पूर्व सीएम उन मीडिया रिपोर्टों पर प्रतिक्रिया दे रहे थे जिनमें ये कहा गया था कि भारत के चुनाव आयुक्त इस बात का निर्णय करेंगे कि क्या प्रदेश में लोकसभा चुनावों के साथ प्रदेश के चुनावों भी कराया जाए. अब्दुल्ला ने कहा है कि एक बार को छोड़कर प्रदेश में 1995-96 से चुनाव निर्धारित अवधि में होते आए हैं.

पीएम मोदी ने धोए सफाई कर्म के पैर, राज बब्बर बोले- ये आरएसएस का हिंदुत्व

वहीं इससे पहले उमर अब्दुला ने कश्मीरियों के पक्ष में बोलने के लिए शनिवार को पीएम नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया. अब्दुल्ला ने ट्वीट करते हुए लिखा था कि, 'धन्यवाद नरेंद्र मोदी साहेब, आज आपने हमारे मन की बात कह दी'. आपको बता दें कि राजस्थान में एक जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा था कि भारत की लड़ाई कश्मीर या कश्मीरियों के विरुद्ध नहीं है. 

खबरें और भी:- 

लोकसभा चुनाव: यूपी के बाद अब मध्य प्रदेश और उत्तराखंड में भी सपा-बसपा का गठबंधन

पुलवामा हमले पर बोले केजरीवाल, 40 की जगह पाकिस्तान के 400 मारो

मायावती ने साधा पीएम मोदी पर निशाना, कहा गंगा स्नान से पाप धूल जाएंगे क्या ?